Loading...

छोटे से खेत से आप भी कर सकते हैं लाखों की कमाई, जानें क्या है Integrated Farming..

0 11
सरकार द्वारा लगातार भारत को आत्मनिर्भर बनाने की मुहिम चलाई जा रही है। ऐसे में भारत सरकार की इस आत्मनिर्भर भारत की मुहिम के अंतर्गत सरकार इंटीग्रेटेड फार्मिंग को बढ़ावा दे रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्य तक पहुंचने में क्षेत्र में भी बड़ा योगदान है।
ऐसे में किसान को इंटीग्रेटेड फार्मिंग अपनानी होगी। इसमें किसान अपने खेत पर कई तरह के काम कर न अपनी हाय को बढ़ा सकते हैं बल्कि देश की प्रगति में भी अपना योगदान दे सकते हैं। आपको बता दें कि जयपुर के कैसे किसान जोकि इस आईएफएस मॉडल को अपनाकर खेती में एक नया मोर ले कर आए हैं।
सबसे पहले बात करते हैं इंटीग्रेटेड फार्म की। आपको बता दें कि इससे कोई भी किसान साल भर में अपना मुनाफा एक अच्छे तौर पर काम आ सकता है। इस प्रणाली में एक घटक से बचे हुए उत्पादों और अवशेषों को दूसरे घटक के लिए उपयोग किया जा सकता है। यदि आप मुर्गी पालन करते हैं तो पॉलीट्रिन की बेटी को मछलियों को खिला सकते हैं।
Loading...
इससे मछली की अधिक मात्रा में तादाद होगी, साथ ही मुनाफा भी होगा और दूसरा उस तालाब के पानी को सिंचाई के लिए उपयोग में लाया जा सकता है। यदि इसके साथ पशुपालन भी किया जाए तो गायब है। इससे दूर को बेचकर भी मुनाफा कमाया जा सकता है।
जयपुर के पास बिचुन गांव में प्रगतिशील किसान सुरेंद्र अवाना खेती के लिए एक नया तरीका अपनाकर खेती को एक नया मोड़ दे रहे हैं। एक ओर जहां देश के किसान खेती से गुजारा नहीं होने की बात कहकर धीरे धीरे खेती से दूर होते जा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर सुरेंद्र अवाना खेती का आई एस एस मॉडल यानी कि इंटीग्रेटेड फार्मिंग सिस्टम अपनाकर खेती से दोगुना मुनाफा कमाने की तरकीब बना चुके हैं। सरकार भी किसानों को केवल परंपरागत खेती के लिए भरोसे रहने की बजाए समन्वित खेती अपनाने पर काफी जोर दे रही है।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.