Loading...

1 नवंबर से होने वाले हैं देश में इन नियमों को लेकर बड़े बदलाव, जानें किस तरह मिलेगा फायदा..

0 6
त्योहारी सीजन आ चुका है ऐसे में नवंबर के महीने की शुरुआत से ही तिहारी सीजन घरों में दस्तक देने वाला है। नवम्बर शुरू होने में मात्र 2 दिन का समय शेष बचा है। ऐसे में नवंबर महीने की शुरुआत के साथ ही कुछ नियमों में भी बदलाव होने जा रहा है नए महीने की शुरुआत के लिए कुछ नियम बदले जाने वाले हैं।
आपको बता देंगे गैस सिलेंडर और रेलवे जैसी कई नियमों में बदलाव होने की आशंका जताई जा रही है। इसमें से कई नियमों का असर आपकी जेब पर पढ़ने वाला है। गैस सिलेंडर की बुकिंग से लेकर बैंक चार्जेस तक के नियमों में बदलाव होने वाले हैं। इसके साथ ही भारतीय रेलवे ने भी 1 नवंबर से अपने टाइम टेबल में बदलाव करने का विचार बना लिया है। इन नियमों को जानने ना आपके लिए जरूरी हो सकता है क्योंकि बिना नियर मे की जानकारी के आपकी जेब पर भारी नुकसान हो सकता है।
देश की सरकारी तेल कंपनियां हर महीने की 1 तारीख को गैस सिलेंडर की कीमतों में मैं बदलाव करती हैं। कीमतों में बढ़ोतरी भी हो सकती है और इनकी कीमतों से आपको थोड़ी राहत भी मिल सकती है। ऐसे में 1 नवंबर को गैस सिलेंडर की बदलाव होने की आशंका जताई जा रही है।
Loading...
इतना ही नहीं, बैंक से जुड़े चार्जेस में भी बदलाव होने का नियम तय कर दिया गया है। खासतौर पर बैंक ऑफ बड़ौदा ने इस नियम को लागू भी कर दिया है। बैंकों में अब अपना पैसा जमा करने और निकालने के लिए भी आपको एक अलग ही फीस देनी होगी। बैंक ऑफ बड़ौदा ने इसकी शुरुआत पहले भी करती है। अगले महीने में तय सीमा से ज्यादा बैंकिंग लेन-देन करने पर आपको अतिरिक्त शुल्क का भुगतान करना होगा।
बैंक ऑफ बड़ौदा ही नहीं, एसबीआई ने भी 1 नवंबर से अपने कुछ नियमों में बदलाव करने का विचार बनाया है। आपको बता दें कि 1 नवंबर से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने बचत खातों पर देने वाली ब्याज दरों में कटौती करने का विचार बना रही है। 1 नवंबर से सेविंग खाते पर मिलने वाली ब्याज में कभी कर दी जाएगी, जिन सेविंग खाता में 1 लाख रुपए तक की राशि जमा है, उस पर ब्याज की दरें 3.25% तक ही मिलेगी।
बैंक के अलावा गैस सिलेंडर की डिलीवरी से जुड़े नियमों में भी बदलाव होने वाला है। अब 1 नवंबर से गैस बुकिंग के बाद ग्राहकों को अपना गैस की डिलीवरी लेने के लिए मोबाइल नंबर पर ओटीपी का इस्तेमाल करना होगा। बिना ओटीपी बताए आप अपने गैस सिलेंडर की डिलीवरी नहीं ले पाएंगे।
इतना ही नहीं भारतीय रेलवे द्वारा भी नियमों में बदलाव करने का विचार बना लिया गया है। इंडियन रेलवे पूरे देश की ट्रेनों के टाइम टेबल में बदलाव करने जा रही है। पहले ट्रेनों की टाइम टेबल 1 अक्टूबर से बदलने का विचार बनाया था, लेकिन किन्हीं कारणों की वजह से इसे आगे बढ़ाते हुए का 30 अक्टूबर तक फाइनल कर दिया गया है यानी कि 1 नवंबर से नई समय सारणी लागू कर दी जाएगी।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.