Loading...

गीता में भी दिया गया है इस बात का घ्यान, कर्म पर ध्यान दें फल की चिंता न करें

0 7

हम सभी अच्छे बुरे कर्म फलों को इसी जन्म में कैसे खत्म कर सकते हैं। जिससे यह सब हमारे आगे वाले जन्म में ना जाएं। इस प्रकार के कुछ कई सारे प्रश्न होते हैं लोग ज्यादातर इस ही प्रश्न पूछते हैं। हालांकि इस पर कई सारे लोग अपनी अलग-अलग राय भी रखते हैं। तो ऐसे ही एक व्यक्ति ने अपनी राय रखते हुए बताया है कि इस जन्म के कर्मों को ख़त्म करने का तरीका है निष्काम कर्म। इसमें हम कर्म तो करते हैं। इसमें हम कर्म तो करते हैं लेकिन उसका फल हमें तुरंत नहीं मिलता। क्योंकि वे कर्म आसक्ति और अहंकार के बिना, परमात्मा का ध्यान रखते हुए निस्वार्थ भाव से किए जाते हैं असलियत में हमारे अंदर चित्त नाम का एक सॉफ्टवेयर है। जिसका काम है। काम के हिसाब से फल देना लेकिन इसकी खूबी है कि कर्म के बाद फल का पता नहीं लगता कि उसका फल कब और कैसे मिलने वाला है।

हालांकि कई बार यह फल तुरंत मिल जाता है और कई बार इसको मिलने में समय लगता है और जिसका हम अनुमान भी नहीं लगा सकते। जो हमने कर्म आज किया है उसका फल कब मिलेगा। वैसे भी पता नहीं जो फल हम आज भोग रहे हैं, वह न जाने पिछले किस जन्म का फल है। देखा जाए, तो शरीर में चित्त का कोई तय स्थान नहीं हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.