Loading...

घर बैठे करें ऑनलाइन अपने PAN Card में करेक्शन, चुटकियों में होगा काम! जानें तरीका..

0 9

भारत में आधार कार्ड और पैन कार्ड दो जरूरी दस्तावेज बना दिए गए हैं। इनके बिना कोई भी कार्य कार्य होना असंभव है। कहीं निवेश करना हो या फिर आइटीआर भरना हो आपको अपने इंदौर दस्तावेजों की आवश्यकता होगी ही। देश के हर नागरिक के पास पैन कार्ड होना चाहिए आप कार्य प्रगति खरीद रहे हो शेयर बेच रहे हो या फिर इन्वेस्ट करना हो या किसी भारतीय करंसी को विदेशी करंसी में बदलना चाहते हैं तो इन सभी काम के लिए आपको पैन कार्ड की जरूरत होगी ही।

जैसा कि आप सभी जानते हैं पैन कार्ड एक बहुत ही जरूरी दस्तावेज है। आईटीआर दाखिल करने से लेकर बैंक खाता खुलवाने और वित्तीय ट्रांजैक्शन करने के लिए भी की आवश्यकता होती है। अगर पैन कार्ड खो जाए तो कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मात्र 50 रुपये खर्च कर कर अब आप अपना खोया हुआ पैन कार्ड फिर से बनवा सकते हैं। यह एक डुप्लीकेट पैन कार्ड होगा। इसके लिए सारा कार्य ऑनलाइन रूप से किया जाएगा।

इस सुविधा का लाभ केवल वही लोग उठा सकते हैं, जिनका पैन कार्ड पहले आयकर विभाग के एनएसडीएल या  यूटीआई द्वारा बना हुआ हो। इसके साथ जिस पैन कार्ड का डुप्लीकेट बनाना हो, उसका पहले ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होना अनिवार्य होगा, ताकि नए डुप्लीकेट पैन कार्ड के लिए प्रोसेस में ओटीपी आ सके।
Loading...
UMANG App से कर सकते हैं पैन कार्ड अपडेट
इस ऐप की सहायता से अपने पैन कार्ड को अपडेट करने के लिए आपको सबसे पहले अपने फोन के प्ले स्टोर से उमंग ऐप को डाउनलोड करना होगा। अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के माध्यम से इस ऐप पर लॉगइन करना होगा। लोगिन करने के बाद हमारी पहन के विकल्प पर जाएं यहां जाने पर आपको एक नया पेज खुल कर सामने आएगा जिस पर पेन से संबंधित अपनी सेवा के बारे में जानकारी देनी होगी। इनमें से करेक्शन चेंज वाले ऑप्शन को आप को चुनना होगा।
सीएचएस फॉर्म खुलकर सामने आएगा जिसमें गलत डिटेल को सुधारने का ऑप्शन दिया गया होगा। इस फॉर्म में पैन नंबर डालकर अन्य जानकारी भरने होंगी। प्रक्रिया पूरी होने के बाद करेक्शन फीस भरना होगा। आपको बता दें कि अपडेट करने के लिए आपको सीएससी यानी कि कॉमन सर्विस सेंटर द्वारा मात्र 50 रुपए का शुल्क भरना होता है। इस छूट को भरने की प्रक्रिया आप नेट बैंकिंग डेबिट और क्रेडिट कार्ड के माध्यम से कर सकते हैं।
सहायक दस्तावेजों के साथ फॉर्म को नेशनल सिक्योरिटी डिपॉजिटरी लिमिटेड टी आई एन फैसिलिटेशन सेंटर या पेन सेंटर में किसी भी एक में जाकर जमा करना होगा।
बिना पैन कार्ड रुक जाएंगे ये काम

आपको बता दें कि आयकर विभाग द्वारा जारी किया गया एक दस्तावेज होता है पैन कार्ड फाइनेंसियल ट्रांजैक्शन हो या फिर कहीं निवेश करना इस जरूर दस्तावेज की आवश्यकता आपको पड़ती है। यह 10 डिजिट का अल्फान्यूमैरिक कोड होता है।

 

पैन कार्ड व्यक्ति, फर्म, कंपनी, व्यक्तियों का संगठन, व्यक्तिगत निकाय, हिंदू अविभाजित, परिवार सहकारी समिति, आर्टिफिशियल न्यायिक, व्यक्ति स्थानीय प्राधिकरण, सरकारी एजेंसियां ट्रस्ट और टैक्सपेयर्स लिमिटेड, लायबिलिटी पार्टनरशिप आदि के लिए जरूरी दस्तावेज होता है।

 

पैन कार्ड को लोगों और संस्थाओं में होने वाली चोरी से रोकने के लिए किया जाता है यह किसी व्यक्ति या संस्था से हुई फाइनल ट्रांजैक्शन को लिंक करता है, जिसका पूरा रिकॉर्ड आयकर विभाग के पास रहता है। इससे कोई भी व्यक्ति या संस्था अपने आयकर की चोरी नहीं कर सकती है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.