Loading...

घर चलाने के लिए इस अभिनेता ने कालीन बेच कर चलाया काम, पूरे जीवन का किया संघर्ष..

0 6
बात चाहे फिल्मों की हो या फिर टीवी की दुनिया की इसमें अपनी जगह बनाना इतना आसान नहीं है। कई कलाकार ऐसे हैं। जिन्हें सब कुछ बड़ी आसानी से मिल जाता है,पर दूसरी तरफ बहुत से कलाकार ऐसे भी हैं जिन्हें अपनी जगह बनाने के लिए कई संघर्ष भी करने पड़ते हैं। आपने शाहरुख, रणवीर और कार्तिक आर्यन जैसे अभिनेताओं के संघर्ष की कहानी तो सुनी ही होंगी। लेकिन आज हम बात कर रहे हैं, टीवी कलाकार वरुण बडोला के बारे में। जिन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान अपनी यह बातें बताई।
 
वरुण ने बताया कि वे अपने करियर के दौरान किए गए खुद के संघर्षों से  खुद को गर्वित करने में विश्वास रखते हैं, क्योंकि एक एक्टर का संघर्ष कभी भी खत्म नहीं होता है।
वरुण ने कहा कि वे 18 साल की उम्र में एक टेली शॉपिंग पोर्टल के लिए लिखने के साथ में करियर की शुरुआत की थी। जब उनसे उनके संघर्ष के बारे में पूछा गया तो वरुण ने बताया कि “मैं अपने आरामदायक जीवन को छोड़कर बाहर निकला और बहुत छोटी सी उम्र में ही काम करना शुरू किया, क्योंकि मैं पैसे के लिए अपने माता-पिता पर बोझ बनना बिल्कुल नहीं जाता था। नौकरी ना होने पर अपना जीवन चलाने के लिए मैंने घर-घर जाकर कालीनें तक बेचे हैं। बाद में मैं अपने अनुभव के लिए एक कॉस्टिंग डिजाइनर के यहां असिस्टेंट की जॉब करने लगा।”
Loading...
इतना ही नहीं, वरुण ने लेखन और निर्देशक के रूप में भी अपना सिक्का आजमाया। इसके बारे में बात करते हुए वरुण ने कहा कि मैंने एक शो ‘दिल से’ के लिए लिखा तो मेरी जिंदगी में एक नया मोड़ ले लिया। मैं नर्वस था और अपने काम पर आत्मविश्वास भी नहीं था, हालांकि निर्माताओं ने मेरी लिखावट को काफी सराहा और मुझ पर विश्वास भी दिखाया।
 
पहले सह निर्देशक का काम करने वाले वरुण अभिनेता बने पहली बार तिगमांशु धुलिया ने एक शो ‘बनेगी अपनी बात’ में वरुण को एक किरदार दिलाया। जिसके बाद उन्हें शो ‘कोशिश’ में एक विशेष किरदार निभाने का अवसर प्राप्त हुआ। इसके बाद ‘अस्तित्व’ में भी काम किया। उनका इस धारावाहिक में उन्हें 10 साल छोटी औरत से प्यार करते दिखाया गया।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.