Loading...

जानिए आखिर नवरात्रों में क्यों खाया जाता है सेंधा नमक जानते हैं क्या जानते है आप?

0 57

इस साल नवरात्रि 17 अक्टूबर को शुरू हो रहे हैं और पूरे 9 दिन चलने वाले इस त्योहार में मां दुर्गा के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है। ऐसे में बहुत सारे लोग माता रानी की कृपा पाने के लिए व्रत भी रखते हैं और व्रत के दौरान अगर खाने की बात करें तो उसमें मूली आलू कद्दू सिंघाड़े का आटा आदि का इस्तेमाल किया जाता है। मगर बात अगर नमक के बारे में करें तो इसमें साधारण नमक की जगह सेंधा नमक का सेवन किया जाता है। मगर क्या आप इस बात को जानते हैं कि व्रत के दौरान सेंधा नमक का इस्तेमाल क्यों किया जाता है। अगर नहीं तो चलिए आज हम आपको बताते हैं।

असल में साधारण नमक को सी- साल्ट यानि समुद्री नमक कहा जाता है। इस नमक को तैयार होने में कई केमिकल प्रोसेस से गुजरना पड़ता है। ऐसे में पूरी तरह से शुद्ध ना होने के कारण है सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद नहीं होता है। इसके विपरीत सेंधा नमक को पहाड़ी या रॉक- साल्ट के नाम से जाना जाता है। साथ ही खारा और आयोडिन कम होने से यह नमक एकदम शुद्ध व हल्का होता है। ऐसे में पौष्टिक गुणों से भरपूर होने के कारण सेहत का अच्छे से ध्यान रखता है। ऐसे में बिना किसी परेशानी के आप सेंधा नमक का सेवन कर सकते हैं क्योंकि आपके शरीर को कई तरह के फायदे पहुंचाने का काम करता है।

सेंधा नमक में आयोडीन की मात्रा कम होने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। आंखों के पास पड़ी सूजन कम हो जाती है।

आपको बता दें कि इसका सेवन करने से शरीर को सभी उच्च तत्व आसानी से मिल जाते हैं पाचन तंत्र मजबूत होने से पेट से जुड़ी बीमारियां होने का खतरा भी काफी हद तक कम रहता है। इतना ही नहीं इसका सेवन करने से दिनभर शरीर में एनर्जी भी बनी रहती है। तनाव थकान कम होने में मदद मिलती है इसके सेवन से भूख कम लगती है ऐसे में शरीर का वजन बढ़ने की परेशानी भी दूर रहती है। ब्लड सरकुलेशन बेहतर तरीके के साथ होने के साथ-साथ शरीर से मौजूद विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं। जिन लोगों को पथरी की समस्या है। उन्हें नमक का सेवन ही करना चाहिए।

Loading...
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.