Loading...

Salary और Saving खाते होते हैं Current खाते से भिन्न, जानें किस खाते पर मिलती है कितनी ब्याज..

0 4
आमतौर पर प्रति व्यक्ति का खाता किसी ने किसी बैंक में होता ही है। किसी भी बैंक में कई तरह के खाते खोले जाते हैं। ज्यादा लोग बैंकों में अपना सेविंग खत्म हो जाते हैं जो लोग नौकरी करने वाले होते हैं वह अपना सैलरी अकाउंट खुलवा के हैं। सैलेरी खाते में किसी भी एंप्लॉय का वेतन आता है।
इसके अलावा एक और खाता होता है, जिसे करंट अकाउंट कहते हैं। इन तीनों का इस्तेमाल डिपाजिट ट्रांजैक्शन के लिए किया जाता है, लेकिन इन तीनों में काफी भिन्नता है। ज्यादातर लोगों को इसके बारे मैं जानकारी नहीं होती है। आज हम आपको इन तीनों खाते हुए अंतर और इनकी खासियत के बारे में बताने जा रहे हैं।
Saving Account
Loading...
बात की जाए सेविंग खाते की तो यह खता हर कोई कर सकता है। इसके लिए कुछ खास नियम व शर्तें होती हैं उन नियमों और शर्तों का पालन जो भी करता है वह सेविंग खाता खुल सकता है। इसमें आपको अपनी बचत जमा करनी होती है। इस पर बैंक आपको ब्याज भी देता है। सेविंग अकाउंट में एक मिनिमम बैलेंस रखना आवश्यक होता है। मिनिमम बैलेंस ना रखने की स्थिति में आप से अलग-अलग चार्ज करते हैं।
Current Account 
करंट खाता आम भाषा में से चालू खाता कहते हैं। करंट अकाउंट बिजनेस करने वाले लोगों के लिए खोला जाता है। इस खाते में स्टार्टअप पार्टनरशिप फॉर्म प्राइवेट लिमिटेड कंपनी और पब्लिक लिमिटेड कंपनी करवा सकते हैं। करंट अकाउंट में जमा राशि पर नहीं मिलती है। आपको बता दें कि करंट खाते पर आपको ओवरड्राफ्ट की सुविधा भी मिलती है। साथ ही यह खाता टैक्स के दायरे में नहीं आता है।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.