Loading...

घर की ग्रहणियों के लिए किसी बड़े सिर दर्द से कम नहीं है गलत दिशा में भी किचन, अक्सर महिलाओं पर देखने को मिलता है इसका उल्टा असर

0 10

अगर आप अपने जीवन में जिंदगी भर खुशाली चाहते है। तो आपको अपने घर से वास्तु दोष को हटाना होगा। घर से भी सबसे ज्यादा जरूरी होती है आपकी किचन यदि आपकी किचन में किसी प्रकार का कोई वास्तु दोष है। तो इसका असर सीधा आपके परिवार के ऊपर पड़ता है खास तौर पर गलत दिशा में बनी के किचन ग्रहणी की सेहत पर बुरा असर डालती है।

वास्तु के हिसाब से किचन का निर्माण कर के दक्षिण-पूर्व दिशा में करना चाहिए। इसके अलावा खाना पकाते समय आपका मुंह दक्षिण या उत्तर दिशा में होना चाहिए ऐसा करने से घर की बरकत हमेशा बनी रहती है।

रसोई घर का दरवाजा क्लॉक वाइज उत्तर से पूर्व की दिशा में होना चाहिए। खाना पकाते वक्त आपकी पीठ दरवाजे की तरफ नहीं होनी चाहिए ऐसा करने से घर में आने वाली लक्ष्मी का अपमान होता है।

रसोई मैं किसी तरह का भारी सामान या फिर गेहूं रखने वाला बड़ा कंटेनर किसी भी ईशान कोण में नहीं होना चाहिए। ऐसा करने संग्रहणी की सेहत पर असर पड़ता है।

Loading...

आपकी किचन का रंग घर के वास्तु शास्त्र से मेल खाते हुए होना चाहिए घर में बरकत बनाए रखने के लिए हमेशा शांति में रंगों का इस्तेमाल करें। ऐसे में आप हल्का नीला और हल्का पीला रंग का भी इस्तेमाल कर सकते है।

अगर आप अपना डाइनिंग टेबल रसोई घर में रखना चाहते है। तो उसे किचन के स्टैंडर्ड में रखें डाइनिंग टेबल रखने के लिए उत्तर पश्चिम की दिशा का चुनाव करें।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.