Loading...

अगर नहीं बनवाया है Aadhaar तो जल्द करें इसके लिए आवेदन और उठाएं कई योजनाओं के लाभ, जानें किन दस्तावेजों की होगी आवश्यकता..

0 3

आज भारत में  जरूरी दस्तावेजों में से एक आधार कार्ड है। कहीं निवेश करना हो या कोई भी कागजी कार्यवाही क्यों ना हो आधार कार्ड की आवश्यकता होती है ।आधार कार्ड बनाने वाली कंपनी यूनीक आईडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया आधार कार्ड बनाने के लिए आए दिन नई सेवाएं प्रदान करती है।

 

पर क्या आप जानते हैं यूआईडीएआई ने बिना किसी पूर्व के भी आधार कार्ड बनाने की सुविधा अब लोगों तक पहुंचाई है। इसके लिए आपको दो विकल्प दिए जाएंगे, इनमें परिचय दाता और हेड ऑफ फैमिली के द्वारा इसे बनाया जाएगा।

घर का मुखिया : यदि किसी परिवार के व्यक्ति के पास अपने आईडी प्रूफ नहीं है, तो वह घर के मुखिया विकल्प का इस्तेमाल कर सकता है। इसके लिए यह जरूरी है कि हेड ऑफ फैमिली का नाम इस सूची में दर्ज हो फॉर्म भरते समय आपको परिवार के मुखिया की आईडी प्रूफ की फोटो कॉपी फॉर्म के साथ लगानी होगी। यह बात ध्यान में रहे, कि परिवार के मुखिया का वैलिड आईडेंटिफिकेशन प्रूफ और वैलिड ऐड्रेस प्रूफ डॉक्युमेंट्स के जरिए ही आधार कार्ड बनेगा। आप उसी डॉक्यूमेंट की फोटो कॉपी लगाएं, जिसमें आपका रिलेशनशिप प्रूफ परिवार के सदस्य के साथ दर्शा रहा हो। 

परिचय दाता :  कि किसी व्यक्ति के पास वैलेट आईडी प्रूफ और वैलिड एड्रेस प्रूफ नहीं है, तो ऐसे में वह क्या कर सकता है और कैसे आधार कार्ड बनवा सकता है। इसके लिए यूआईडीएआई ने परिचितदाता का विकल्प लोगों के लिए जारी किया है। परिचय दाता को रजिस्ट्रार द्वारा स्वीकृत किया जाता है। इस विकल्प के जरिए आधार कार्ड बनवाने हेतु परिचय दादा के पास आधार कार्ड होना आवश्यक है। इसके साथ ही वह आधार केंद्र पर आवेदन करने वाले शख्स के साथ मौजूद भी होना चाहिए।

आधार कार्ड बनाने के लिए उम्र सीमा ते नहीं है। एक नवजात से लेकर व्यस्क व्यक्ति तक के लिए आधार कार्ड बनाया जा सकता है। सभी के मन में यह सवाल जरूर आता होगा कि एक नवजात के नाम पर आधार कार्ड कैसे बनाया जा सकता है। आपको बता दें कि यूआईडीएआई भारत में रह रहे नागरिकों के आधार कार्ड बनाने की सुविधा देता है। चाहे नागरिक की उम्र जो भी हो वह आधार कार्ड बनाने का लाभकारी बन सकता है।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.