Loading...

यदि हुआ ATM टांजेक्शन फ़ेल तो बैंक देगा आपको पूरा पैसा रिफंड, क्रेडिट न होने पर उठाएं यह कदम..

0 3
जैसा कि आप सभी जानते हैं बदलते समय के साथ साथ देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन भी काफी तेजी से बढ़ गया है। कई बार बैंक कस्टमर किसी एटीएम से पैसे निकालने जाता है तो उसके खाते से पैसा तो कट जाता है लेकिन एटीएम से पैसा नहीं निकलता। ऐसे में ग्राहक परेशान हो जाता है कि वह ऐसी स्थिति में क्या करें।
यदि आपके साथ भी ऐसा ही कुछ घटित हुआ है तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं होगी क्योंकि आज हम आपको आरबीआई यानी कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के कुछ खास नियमों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आपको ऐसी स्थिति में क्या करना है। इस बात की जानकारी होगी

Loading...
आपको बता दें कि इस तरह के मामले में खाते से कटी हुई रकम बैंक को तुरंत लौटानी होती है। यदि शिकायत दर्ज होने के 7 दिन के भीतर ग्राहक के खाते में वह पैसा वापस नहीं आता है तो कार्ड जारी करने वाली कंपनी को रोजाना 100 रुपए के हिसाब से हर्जाना आती है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से यह नियम सितंबर 2019 में जारी किया गया था। बैंक से पेनल्टी पाने के लिए ग्राहक ट्रांजैक्शन फेल होने के 30 दिन के भीतर अपनी शिकायत को दर्ज कराना होगा।
आपको ट्रांजैक्शन की पर्ची या अकाउंट स्टेटमेंट के साथ अपनी शिकायत बैंक में दर्ज कराने होगी। इसके साथ-साथ आपको बैंक के अधिकृत कर्मचारी को अपने एटीएम कार्ड की डिटेल बतानी होगी। यदि 7 दिन के भीतर आपका पैसा वापस नहीं लौटाया जाता है तो आपको एनेक्शर’5 फॉर्म भरना होगा, जिस दिन आप यह फॉर्म भरेंगे, आप की पेनल्टी उसी दिन से शुरू कर दी जाएगी।
इस नियम के मुताबिक, यदि बैंक शिकायत करने के 7 दिन के भीतर आपका पैसा वापस नहीं करता है तो हर दिन 100 रुपए के हिसाब से ग्राहक को यह हर्जाना दिया जाएगा।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.