Loading...

आयुष मंत्रालय का दावा; कोरोना के हल्के लक्षणों के इलाज में कारगर है ये खास जड़ी बूटियां

0 32

भारत में कोरोना का कहर खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। चीन से महामारी बनकर निकले खतरनाक वायरस से देश में अब तक कई सारे लोग संक्रमित हो चुके हैं और कई सारे लोग मौत के घाट पर चुके हैं। कोरोनावायरस कोई भी स्थाई इलाज है टीका नहीं मिला है देश में कोरोनावायरस ने के लिए आयुर्वेदिक उपचारों का भी सहारा लिया जा रहा है।

इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कोरोनावायरस से बचाव के लिए एक नया प्रोटोकॉल जारी किया है आपको बता दें कि इकनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक इसमें पूर्ण और सांस से जुड़ी समस्याओं के उपचार और रोकथाम के लिए उपायों में योग और अश्वगंधा जैसे आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को भी शामिल किया गया है हर्षवर्धन ने कहा है कि यह प्रोटोकॉल कोरोनावायरस से निपटने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम साबित होगा।

प्रोटोकॉल में बताया गया है कि कोरोनावायरस से निपटने के लिए इम्युनिटी सिस्टम का मजबूत होना बेहद जरूरी है। इस प्रोटोकॉल में अश्वगंधा, गुडूची घाना वटी या च्यवनप्राश जैसी जड़ी बूटियों को शामिल किया गया हैजिनका कई सारे रोगों में उपचार के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

कोरोनावायरस पॉजिटिव रोगियों के लिए गुडूची घाना वाटी, गुदुची और पिप्पली या आयुष 64 के सेवन की सलाह दी गई है। बताया गया है कि गुडूची और पिप्पली और आयुष 64 टैबलेट हल्के कोरोना वायरस संक्रमित रोगियों को दिए जा सकते हैं।

Loading...

प्रोटोकॉल में इन दवाओं को लेने के तरीके भी बताए गए हैं दिशा निर्देशों में कहा गया है कि इन दवाओं के अलावा लोगों को बेहतर खानपान और जीवन शैली पर भी ध्यान देना चाहिए।

प्रोटोकॉल में थकान मानसिक स्वास्थ्य से फेफड़ों की जटिलताओं को रोकने के लिए कोरोनावायरस थाम के लिए अश्वगंधा चवनप्राश या रसायन चूर्ण के सेवन की सलाह दी गई है। इसके अलावा स्वास्थ्य की कार्य क्षमता में सुधार तनाव चिंता को कम करने और प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए मंत्रालय ने कोरोनावायरस की प्राथमिक रोकथाम के लिए योग प्रोटोकॉल भी जारी किया है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि देश में इस समय 56,62,490 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और फिलहाल 9,19,023 इलाज करवा रहे हैं और कुल मिलाकर आंकड़ों का मामला 13.75 फीसदी है। कोविड-19 से मृत्यु दर 1.55 फीसदी दर्ज की गई है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.