Loading...

पैसे की है जरूरत! घर बैठे करें अपने PF का पैसा Claim, अगर कर दी ये गलती तो घटकर मिलेगी पेंशन..

0 3
नई दिल्ली: कर्मचारी भविष्य निधि से पैसा वैसे तो रिटायरमेंट के बाद ही मिलता है, लेकिन अब आप हर डायमंड के पहले भी अपने पीएफ खाते से पैसा निकाल सकते हैं। ईपीएफओ अपने कर्मचारियों को अलग-अलग जरूरतों के लिए सुविधा देता है। ईपीएफ एक टेक्सफ्री इन्वेस्टमेंट है। इसे कर्मचारी 1.5 लाख तक की सीमा की धनराशि पर टैक्स की छूट मिलती है।
इतना ही नहीं, इसमें पैसा जमा करने पर ब्याज और मैच्योरिटी के समय मिलने वाली राशि बिल्कुल टैक्स फ्री होती है। ईपीएफ में खाताधारक रिटायरमेंट के बाद पीएफ की पूरी राशि को निकाल सकता है। कुछ मामलों में खाताधारक मैच्योरिटी पूरी होने से पहले भी पीएफ खाते से अपना धन निकाल सकता है।
ईपीएफ यूएएन के लिए केवाईसी को ऑनलाइन अपडेट करने के लिए सबसे पहले आपको ईपीएफओ यूएएन पोर्टल https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ पर जाना होगा। यहां यूएएन पासवर्ड और कैप्चा कोड भरना होगा। अब सब्सक्राइबर को वेरीफाई केवाईसी डीटेल्स और उसके बाद मैनेज टैब का बटन दबाना होता है। इसके बाद मैन्युबार में से ऑनलाइन सर्विसेज पर क्लिक करके अपना क्लेम चुनना पड़ता है।
Loading...
इसके बाद सब्सक्राइबर को स्क्रीन पर दिखने वाले डिटेल में उचित स्थान पर अपने बैंक खाते के अंतिम चार नंबर दर्ज करके येस का बटन दबाना होगा। इसके बाद सर्टिफिकेट ऑफ अंडरटेकिंग का बटन दबाना होगा।
पोर्टल पर डिटेल्स को अपडेट करने के बाद जब तक नियोक्ता की ओर से केवाईसी अप्रूव नहीं होती, तब तक केवाईसी स्टेटस पेंडिंग ही नजर आएगा। एक बार जब आपके नियोक्ता की ओर से आप ही केवाईसी को अप्रूव किया जाएगा। उसके बाद आपका स्टेटस बदलकर अप्रूव्ड बाय एंपलॉयर नजर आने लगेगा। बदलाव होने के बाद आपको एक एसएमएस के माध्यम से सूचना भी दे दी जाएगी।
इसके बाद सब्सक्राइबर को स्क्रीन पर क्लेम के तीन ऑप्शन नजर आएंगे इनमें एक ऑप्शन form-19 होगा, जो फाइनल सेटेलमेंट फॉर्म होता है। दूसरा विकल्प form 10c होगा, इस फॉर्म में केवल पेंशन की निकाली जा सकती है। तीसरा विकल्प form 31 होता है, इसमें कर्मचारी आंशिक रूप से अपना धन निकाल सकता है। इनमें से किसी एक विकल्प को चुनकर प्रोसीड ऑनलाइन क्लेम पर क्लिक करना होता है।
इतना करने के बाद सब्सक्राइबर को केवाईसी डिटेल को वेरीफाई कर, पीएफ के लिए क्लेम को प्रोसेस करना होगा। अप्रूवल होने पर सब्सक्राइबर के बैंक खाते में की राशि डाल दी जाएगी। आपको बता दें कि इस प्रोसेस में लगभग  10 दिन का समय लगता है।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.