Loading...

इन्श्योरेंस पॉलिसी में होता है बेहद अंतर, टर्म इन्श्योरेंस और ट्रेडिशनल लाइफ इन्श्योरेंस लेने से पहले आपके पास होनी चाहिए ये खास जानकारियां

0 6

लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी एक ऐसी चीज होती है। जो सबके लिए बेहद जरूरी होती है इसमें निवेश करने से सुरक्षा कवर भी मिलता है और साथ ही प्लान के मेच्योर होने पर निवेश की गई आपकी कमाई का अच्छा खासा रिटर्न भी आपको मिल जाता है। हालांकि आमतौर पर लोग लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन के प्लान में निवेश करते हैं। लेकिन कई कंपनियों के अलग-अलग प्लान है। जो जीवन बीमा के क्षेत्र में उपलब्ध है। निवेश करने के पहले इसके बारे में जानना बेहद जरूरी होता है चलिए आपको बताते हैं इन सभी प्लान और इंश्योरेंस के बारे में।

टर्म इन्श्योरेंस और ट्रेडिशनल इन्श्योरेंस
आमतौर पर इंश्योरेंस कंपनियां दो तरह के इंश्योरेंस की सुविधा उपलब्ध कराती है। एक है टर्म इंश्योरेंस और दूसरा है ट्रेडिशनल लाइफ इंश्योरेंस इन दोनों के अलग अलग फायदे और अलग-अलग नुकसान होते हैं।

डेथ बेनिफिट
टर्म इंश्योरेंस और ट्रेडिशनल लाइफ इंश्योरेंस में सबसे बड़ा फर्क डेथ बेनिफिट का होता है। जी हां टर्म इंश्योरेंस में व्यक्ति की टाइम पीरियड के दौरान अगर मौत हो जाती है तो बेनिफिट मिलता है। वही लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी में डेट और मेच्योरिटी बेनिफिट दोनों मिलते हैं।

टर्म और लाइफ इन्श्योरेंस से मिलने वाला पैसा
टर्म इंश्योरेंस प्लान मिलने वाले डेथ बेनिफिट की राशि लाइफ इंश्योरेंस में मिलने वाले में छोटी बेनिफिट से कई गुना ज्यादा होती है। ज्यादातर लोग लाइफ इंश्योरेंस में निवेश दोनों बेनिफिट लेने के लिए ही करते हैं। वैसे कम से कम एक टर्म इंश्योरेंस लेना काफी अच्छा विकल्प होता है।

Loading...

कवरेज के साथ सेविंग्स
जानकारी के लिए आपको बताते हैं कि टर्म इंश्योरेंस में व्यक्ति की मौत की स्थिति में उसकी फैमिली को बेनिफिट मिल जाता है। वही टर्म इंश्योरेंस में लाइफ इंश्योरेंस की तरह मैच्योरिटी रिटर्न वापस नहीं मिलता।

हालांकि अगर कोई व्यक्ति ज्यादा प्रीमियम नहीं भरना चाहता है। और सिर्फ डेथ रिस्क को कवर करना चाहता है तो वो टर्म इंश्योरेंस आसानी से ले सकता है वहीं अगर लाइफ कवर के साथ ही इन्वेस्टमेंट पर भी लाभ लेना हो तो ट्रेडिशनल लाइफ इंश्योरेंस में निवेश करना बेहद जरूरी होता है।

जानकारी के लिए आपको यह भी बता दें कि टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी को सरेंडर करना लाइफ इंश्योरेंस के मुकाबले कई गुना आसान होता है। टर्म इंश्योरेंस प्लान में अगर प्रीमियम जमा करना बंद कर दिया जाए तो उसके लाभ मिलने भी अपने आप बंद हो जाते हैं। और पॉलिसी अपने आप ही खत्म हो जाती है

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.