Loading...

सुकन्या समृद्धि योजना और PF जैसी छोटी बचत योजनाओं में निवेश करना होगा आपके लिए फायदेमंद! आज के साथ साथ भविष्य भी होगा सिक्योर..

0 8
सरकार द्वारा कई ऐसी बचत योजनाओं को चलाया जाता है, जिनसे आम वर्ग के व्यक्ति निवेश करके अपना भविष्य सुरक्षित कर सकते हैं। ऐसे ही कुछ बचत योजनाओं के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। सरकार द्वारा चलाई जाने वाली पब्लिक प्रोविडेंट फंड और राष्ट्रीय बचत पत्र समेत ऐसी कई योजनाएं हैं, जिन पर ब्याज दरों में अक्टूबर दिसंबर तिमाही के लिए कोई बदलाव नहीं किया गया है।
ऐसे समय में जब बैंकों में विभिन्न जमा करो में नरमी अपनाई जा रही है। वहीं सरकार ने लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दरों को पहले की भांति ही चलाने का फैसला लिया है। पीपीएफ और एनएससी पर सालाना ब्याज दर 7.1% और 7.8% है। वित्त मंत्रालय तिमाही आधार पर लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरों को अधिसूचित करता है।
आपको बता दें कि आर्थिक मामलों के सचिव तरुण बाजार द्वारा बताया गया कि सरकार कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के लिए उधारी मुख्य की जानकारी दी गई है, जिसमें कहा गया है कि स्कीम तीसरी तिमाही में लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरों में किसी प्रकार का बदलाव नहीं किया है।
बाद में वित्त मंत्रालय की अधिसूचना द्वारा भी इस बात की जानकारी दी गई है कि वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही के लिए विभिन्न लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दर जुलाई सितंबर की तिमाही के हिसाब से ही तय किए गए हैं।
ऐसे में 5 साल की वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर 7.4% सुकन्या समृद्धि योजना पर 7.6%, किसान विकास पत्र पर 6.9%, मियादी जमा पर 5.5 से 6.7% और आवर्ती जमा पर 5.8% की ब्याज दरें दी जा रही हैं।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.