Loading...

GK IN HINDI; जानिए आखिर हाईवे पर लगे बोर्ड का रंग होता है गहरा हरा

0 6

आपने अक्सर देखा होगा कि जब भी आप किसी राष्ट्रीय राजमार्ग पर आते जाते हैं। तो आपको याद होगा कि शहरों की दूरी व दिशा में बताने के लिए हर जगह अलग-अलग बोर्ड लगे होते हैं। हालांकि इन सभी बोर्ड का कलर हरा होता है लेकिन अगर इन बोर्ड के कलर की बात की जाए तो कुछ समय पहले तक इन सभी बोर्ड का कलर पीला हुआ करता था। और उन पर काले रंग के अक्षरों से दूरी व नाम बताया जाता था। लेकिन अब सवाल यह है कि हाइवे पर दिशा और दूरी बताने वाले इन बोर्ड का कलर हरा क्यों किया गया।

राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के इंजीनियर आर एस राणा का कहना है कि राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण की प्रक्रिया में हर छोटी से छोटी चीज का बारीकी से ध्यान रखा गया है। सड़कों को इस तरह बनाया गया है कि चालक को किसी भी तरीके की कोई भी परेशानी का सामना ना करना पड़े और यात्री आरामदायक तरीके से अपनी यात्रा पूरी कर सके।

और हरे रंग के बोर्ड का जिक्र तो यहां पर किया जा रहा है वह अक्सर उचाई पर लगाए जाते हैं। उनमें से लाल लाल या काले रंग का इस्तेमाल किया जाता है तो वाहक चालक का कंसंट्रेशन डिस्टर्ब हो सकता है। बोर्ड के रिफ्लेक्शंस से एक्सीडेंट हो सकता है। हरा रंग आंखों के लिए नुकसानदायक नहीं होता है और ना ही किसी भी प्रकार का रिफ्लेक्शन देता है बल्कि हरे रंग किस से तो आंखों को आराम मिलता है। ड्राइवर को मार्गदर्शन भी मिल जाता है और उसके ड्राइविंग में भी किसी भी तरीके की कोई दिक्कत नहीं होती है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.