Loading...

भारत में मौजूद है वो वीरान जगह, जहां से दिखता है श्रीलंका, अंधेरा होने के बाद यहाँ जाने पर है पाबंदी

0 40

तमिलनाडु के पूर्वी तट पर रामेश्वरम द्वीप के दक्षिणी किनारे पर स्थित एक ऐसी जगह है। जिसका नाम है धनुषकोडी यह भारत के अंतिम छोर पर यह एक वीरान जगह है। जहां से श्रीलंका दिखाई देता है। एक समय था जब यहां पर लोग रहा करते थे लेकिन अब यह जगह पूरी तरह से वीरान हो गई है।

धनुषकुंडी भारत और श्रीलंका के बीच एकमात्र ऐसी स्थलीय सीमा है। जो पाक जलसंधि में बालू के टीले पर सिर्फ 50 गज की लंबाई पर है और यह विश्व के सबसे छोटे स्थानों में से एक है।

इस जगह पर दिन के उजाले में भारी संख्या में लोग घूमने आते हैं। लेकिन अंधेरा होने के बाद यहां घूमना मना है। लोग शाम होने से पहले ही यहां से लौट जाते हैं। क्योंकि धनुष कुंडली से रामेश्वरम तक का पूरा 15 किलोमीटर का रास्ता बिल्कुल सुनसान और डरावना है। जिस वजह से यहां पर लोग आने से डरते हैं।

साल 1964 में आए भयानक चक्रवात से पहले धनुषकोडी एक उभरता हुआ पर्यटन और तीर्थ स्थल था। उन दिनों धनुष कुंडली में रेलवे स्टेशन अस्पताल चर्च होटल पोस्ट ऑफिस सब हुआ करता था। लेकिन चक्रवात ने सब कुछ नष्ट कर दिया लोग कहते हैं कि जब 100 से अधिक यात्रियों वाली रेलगाड़ी समुद्र में डूब गई थी उसके बाद से यह जगह बिल्कुल सुनसान हो गई थी।

Loading...

हालाकी मान्यताओं के मुताबिक धनुषकोड़ी ही वह जगह है जहां से समुद्र के ऊपर राम सेतु का निर्माण होना शुरू हुआ था। कहते हैं इसी जगह पर भगवान राम ने हनुमान को एक पुल का निर्माण करने का आदेश दिया था। जिस पर होकर वानर सेना लंका जा सके, जहां रावण ने माता सीता को हरण करके रखा था। इस जगह पर भगवान राम से संबंधित कई मंदिर मौजूद हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.