Loading...

सांस लेने की तकलीफ होगी दूर,बस अस्थमा के मरीज कर लें इन चीज़ों का सेवन

0 118

अस्थमा बेहद पुरानी बीमारी है। जिससे सांस लेने में कठिनाई हो जाती है। इससे वायु मार्ग में सृजन हो जाता है। जिसकी वजह से फेफड़ों तक ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती अस्थमा के रोगी को सांस फूलने सांस लेने के दौरे पड़ते हैं। दुर्भाग्यवश इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है हालांकि बताया जाता है।


हालाकिं इस रोग का सबसे बड़ा कारण मौसम में बदलाव मिटी धूल प्रदूषण आदि है। अस्थमा के लक्षणों में खासी घबराहट सांस की तकलीफ और सीने में जकड़न शामिल है। ऐसे लक्षण महसूस होने पर आपको तुरंत अपनी डाइट में बदलाव करना चाहिए मानते हैं कि खाने-पीने की चीजें के लक्षणों को बढ़ा देती है इसमें अंडे सोयाबीन गाजर ब्रेड पास्ता केक पेस्ट्री दूध से बने उत्पादन शामिल होते हैं। यदि आप अस्थमा को कंट्रोल करना चाहते हैं तो आप ही अपनी डाइट में कुछ चीजों को शामिल करना चाहिए।

लंदन के इंपीरियल कॉलेज में शोधकर्ताओं ने 2011 में एक अध्ययन के मुताबिक यह पाया था कि अगर दिन में एक केला खाया जाए तो अस्थमा का असर काफी हद तक कम होता हैं। केले में फाइबर अधिक होता है यह सांस की बीमारी को अधिक बढ़ने नहीं देता।

कई बार शरीर में पानी की कमी हो जाती है इसे हम नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन शरीर में पानी की कमी होने से भी यह प्रॉब्लम हो जाती है। ऐसी समस्याओं का अहम कारण डिहाइड्रेशन भी होता है। क्योंकि जब शरीर में पानी की कमी होने लगती है तो हिस्टामाइन का स्तर तेजी से बढ़ने लगता है।

अदरक अस्थमा से लड़ने के लिए बेहद कारगर होती है कुछ लोगों का मानना है कि सूजन को रोकती है हालांकि अदरक की सबसे खास बात यह होती है कि इस्तेमाल करने से साइड इफेक्ट नहीं होते।

Loading...

एवोकाडो एक बहुत ही अच्छा फल माना जाता है यह शरीर से कई तरह की बीमारियों से दूर रखता है। अस्थमा के मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद है आपको बता दें कि यह शरीर में सेल को डैमेज होने से रोकता है। इसके अलावा शरीर में विषैले पदार्थों को बाहर निकालकर शरीर को स्वस्थ रखता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.