Loading...

Indian Premier League की जगह ChinesePremierLeague सोशल मीडिया पर हो रहा है ट्रेंड, BCCI पर भड़के लोग

0 6

बीसीसीआई की गवर्निंग काउंसिल की बैठक में आईपीएल के प्रायोजक पर फैसला किया गया. बीसीसीआई ने चाइनीस मोबाइल कंपनी वीवो के साथ अपना करार बरकरार रखा है. लेकिन जब इस बारे में लोगों को पता चला तो वह भड़क गए और सोशल मीडिया पर बीसीसीआई को ट्रोल करने लगे.

बता दें कि भारत और चीन के बीच सीमा विवाद के बाद से ही दोनों देशों के बीच कड़वाहट आ गई है और भारतीय लोगों ने चीनी सामान का बहिष्कार करना शुरू कर दिया है. ऐसे में बीसीसीआई के चीनी कंपनी वीवो को अपना टाइटल स्पॉन्सर बनाए रखने पर लोगों ने सोशल मीडिया पर बीसीसीआई को ट्रोल किया.

ट्विटर पर इंडियन प्रीमियर लीग की जगह लोगों ने चीन प्रीमियर लीग को ट्रेंड करना शुरू कर दिया. एक तस्वीर पोस्ट करते हुए सीमा पर शहीद हुए जवानों की याद दिलाते हुए एक फैन ने लिखा- सिर्फ पैसे के लिए ये लोग किसी भी हद को पार कर सकते हैं.

Loading...

एक और फैन ने लिखा- भारत इस तरह की चीजों को बर्दाश्त नहीं करेगा और ना ही स्वीकार करेगा. जय शाह को बीसीसीआई से बर्खास्त करो. एक और फैन ने लिखा- चीनी एप को डाउनलोड करना राष्ट्र विरोधी है, लेकिन चीन के प्रायोजक के आईपीएल का मजा उठाना देश हित में है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.