Loading...

WhatsApp पर भी मिल सकती है Banking से जुड़ी यह सुविधाएं, जानें किस तरह उठा सकते हैं उनका फायदा..

0 11
जैसा कि आप सभी जानते हैं देश भर में फैले कोरोना वायरस के चलते देश भर में मार्च से ही लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई थी। बीच में लॉकडाउन को अनलॉक कर दिया गया था, लेकिन फिर से देश में कोरोना से बचने के लिए कई सावधानियां बरतने को कहा जा रहा है।
इसलिए लोग अपना काम ऑनलाइन करना ज्यादा पसंद कर रहे हैं क्योंकि बाहर कोरोना का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में  व्हाट्सएप बैंकिंग एक खास तरीका बनकर सामने आया है। आपको बता दें कि एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक जैसे कई बड़े बैंकों ने व्हाट्सएप के माध्यम से अपनी बैंकिंग सुविधाएं देना शुरू कर दिया है।
आपको बता दें कि व्हाट्सएप बैंकिंग के माध्यम से आप अपना अकाउंट बैलेंस मिनी स्टेटमेंट के बारे में भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ साथ फ्री अपलोड लोन क्रेडिट कार्ड की लिमिट में बदलाव क्रेडिट और डेबिट कार्ड का लॉक करने जैसे काम एक ही माध्यम से कर पाएंगे। अलग-अलग बैंक की ओर से इस संबंध में गाइडलाइन जारी की गई है।
एक उदाहरण के रूप में देखा जाए तो यदि आप अपने क्रेडिट कार्ड पर बकाया बैलेंस जानना चाहते हैं तो आपको क्रेडिट कार्ड आउटस्टैंडिंग लिखकर मैसेज भेजना होगा। इसके साथ ही आपको अपने क्रेडिट कार्ड की आखिरी चार नंबर भी मैसेज के साथ भेजने होंगे।
वहीं ICICI BANK ने व्हाट्सएप के माध्यम से विनय बैंक खाते खोलने की सुविधा भी दी है। इसके साथ ही बैंक की जून अखबार मैगजीन के साथ साझेदारी होती है, उन्हें भी ऑनलाइन माध्यम से पढ़ा जा सकता है।
यदि आप भी इस सुविधा से जुड़ना चाहते हैं तो इसकी भी विभिन्न बैंकों की अलग अलग ही प्रक्रिया है। जैसे यदि आप एचडीएफसी बैंक की व्हाट्सएप सर्वेश के साथ जुड़ना चाहते हैं तो आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से बैंक की ओर से जारी नंबर पर मिस कॉल करनी होगी। मिस कॉल या फिर मैसेज करके आप एक तरह से व्हाट्सएप बैंकिंग के लिए अपनी सहमति बैंक को देते हैं।
इसके बाद आपको बैंक के व्हाट्सएप नंबर से वेलकम का एक मैसेज आ जाता है, उस नंबर को सेव करने के बाद आप अपने व्हाट्सएप बैंकिंग की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।
यदि बात की जाए इस सुविधा के लिए बैंक द्वारा साजिद लिए जाते हैं या नहीं, तो आपको बता दें कि बैंक द्वारा व्हाट्सएप बैंकिंग के लिए किसी तरह का चार्ज नहीं वसूला जाता। कस्टमर्स को रियल टाइम में सुविधा देने के लिए बैंकों ने इस सुविधा का समागम किया है।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.