Loading...

क्यों नहीं कोई खोल पाता पद्मनाभस्वामी मंदिर के सातवें दरवाजे को, क्या है रहस्य

0 74

केरल के तिरुअनंतपुरम में पद्मनाभस्वामी का मंदिर है जो बहुत प्रसिद्ध है. यह मंदिर काफी रहस्यमयी है. इसे भारत के सबसे अमीर मंदिरों में से एक कहा जाता है. इस मंदिर में कई गुप्त तहखाने हैं, जिनमें से कुछ को खोला जा चुका है, जिनमें से अरबों खरबों का खराब खजाना प्राप्त हुआ. लेकिन आज तक इस मंदिर का सातवां तहखाना नहीं खुल पाया है. मंदिर का सातवां दरवाजा कोई क्यों नहीं खोल पाता, यह एक गहरा रहस्य है.

पद्मनाभस्वामी मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है. ऐसा कहा जाता है कि यह मंदिर 16वीं शताब्दी में त्रावणकोर के राजाओं द्वारा बनवाया गया था और उन्होंने इस मंदिर के तहखानों में भारी मात्रा में खजाना छुपा दिया था. मंदिर के छह तहखाने सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में खोले गए थे जिनमें हीरे-जवाहरात, सोने-चांदी भारी मात्रा में प्राप्त हुए.

मंदिर के सातवें तहखाने का दरवाजा खोलने की भी कोशिश की गई. लेकिन दरवाजे पर बड़े-बड़े सांप के चित्र को देखकर काम रोक दिया गया. ऐसा माना जाता है कि सातवें दरवाजे को खोलना अशुभ होगा. यह मान्यता है कि सातवां दरवाजा शापित है जो भी उसे खोलने की कोशिश करेगा, उसकी मौत हो जाएगी. इसके अलावा यह भी कहा जाता है कि अगर सातवां दरवाजा खोला गया तो धरती पर प्रलय आ जाएगा.

कुछ लोगों ने सातवें दरवाजे को खोलने की कोशिश की. लेकिन जहरीले सांपों के काटने से उनकी मौत हो गई. यह भी कहा जाता है कि सातवें दरवाजे को मंत्रोच्चार से बंद किया गया है और उसे उसी तरीके से खोला भी जा सकता है. लेकिन अगर छोटी सी भी गलती हुई तो जान जा सकती है.

Loading...
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.