Loading...

मोदी सरकार वापस लाई भारत में 1,350 करोड़ रकम वाली 2,300 किलो की ज्वेलरी, भगोड़ों ने हांगकांग में छुपा कर रखे थे ये जेवरात..

0 15
पैसों के लिए आए दिन धोखाधड़ी के मामले देखे जाते हैं यह धोखाधड़ी कभी बैंक के साथ होती है तो कभी आम नागरिकों के साथ ऐसे में आज हम आपको एक धोखाधड़ी के ऐसे मामले के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसमें एक या दो नहीं बल्कि 2300 किलो की ज्वेलरी का सफाया किया था।
ना केवल ज्वेलरी बल्कि पंजाब नेशनल बैंक से भी इस धोखाधड़ी में घपला किया गया था। आपको बता दें कि पंजाब नेशनल बैंक को लगभग 13 हजार करोड रुपए का चूना लगाकर देश छोड़कर भाग जाने वाले नीरव मोदी और उनके रिश्तेदार मेहुल चौकसी से संबंधित फरमा से लगभग 2,300 के लोग से भी ज्यादा की ज्वेलरी भारत वापस लाई गई है।
प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों द्वारा बताया गया कि इनकी कीमत लगभग 1,350 करोड़ रुपए है। इनमें पॉलिश्ड डायमंड, पर्ल और सिल्वर ज्वेलरी शामिल है। इस ज्वेलरी की जबकि प्रक्रिया शुरू होने वाली है। प्रवर्तन निदेशालय सारे कंसाइनमेंट को जल्द ही जप्त कर लेगा।
Loading...
आपको बता दें कि इस पूरी ज्वेलरी को हांगकांग के एक लॉजिस्टिक्स कंपनी के गोडाउन में रखा हुआ था। प्रवर्तन निदेशालय इन ज्वेलरी को बारात लेकर आया है। मुंबई में लैंड किए गए। इस अवसरों को 108 कंसाइनमेंट में उन विदेशी इकाइयों के हैं, जिन पर नीरव मोदी का नियंत्रण है। बाकी ज्वेलरी मेहुल चौक से की कंपनी द्वारा जप्त किए गए हैं।
इतना ही नहीं, प्रवर्तन निदेशालय इन कंसाइनमेंट को प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के अंतर्गत जप्त कर लेगा इन कीमति आभूषणों को लाने में पहले ईडी ने हांगकांग में प्रशासन के साथ सभी कानूनी प्रक्रियाओं को पूर्ण किया है। आपको बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय इन दोनों व्यापारियों नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के अंतर्गत जांच कर रहा है। यह जांच मुंबई में पंजाब नेशनल बैंक की एक शाखा के करीब 13,000 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले से चल रही है।
आपको बता दें कि देश में यह पहला ऐसा मामला सामने आया है। जब किसी अदालत में आईओए के अंतर्गत किसी की संपत्ति को जप्त करने का आदेश दिया है। मुंबई की एक विशेष अदालत में सोमवार को बैंक धोखाधड़ी के इस मामले में भगोड़े आर्थिक अपराधी नीरव मोदी की संपत्ति को आर्थिक अपराधी भगोड़ा कानून के अंतर्गत जप्त करने का आदेश दे दिया है।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.