Loading...

सरकार की इस स्कीम से नहीं होगी पेंशन की चिंता, घर बैठे आराम से मिलेगा पैसा, जानें तरीका..

0 8
कोरोना वायरस संक्रमण के चलते देशभर में अफरा-तफरी मची हुई है। ऐसे में सरकार ने अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए कई ऐसी योजनाओं का ऐलान किया है। जिनसे एक आम आदमी को राहत मिल सके।
इसी कड़ी में केंद्र सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक अहम पेंशन स्कीम प्रधानमंत्री वय वंदन योजना की अंतिम तिथि को 3 साल के लिए आगे की ओर अग्रसर कर दिया है। इसे स्कीम में 30 मार्च 2023 तक निवेश किया जा सकता है। पहले इस योजना की अंतिम तिथि 31 मार्च 2020 थी।
Loading...
इनफार्मेशन ब्यूरो के महानिदेशक द्वारा किए गए एक ट्वीट में इस बात को संबोधित किया गया। इस योजना के अंतर्गत 60 वर्ष की आयु से अधिक का कोई भी व्यक्ति निवेश कर सकता है। साथ ही इस पर 8% की ब्याज दर भी प्राप्त होती है। फिलहाल बाजार में चल रही मंदी के दौर में यह बयान काफी अधिक है।
इस स्कीम में भारतीय जीवन बीमा निगम के माध्यम से निवेश किया जा सकता है। इस स्कीम में निवेश करने के लिए आप ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों ही तरीके से निवेश कर सकते हैं।
आपको बता दें कि वित्त वर्ष 2020 में इस स्कीम के अंतर्गत 7.40% प्रतिवर्ष के हिसाब से ब्याज दी जाती थी। और उसके बाद प्रतिवर्ष इंटरेस्ट को तय किया गया गया। इस स्कीम के अंतर्गत हर साल वित्त वर्ष की शुरुआत में 1 अप्रैल को ब्याज की दर तय की जाएगी।
सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम के अंतर्गत 7.75% ब्याज की लिमिट होगी।
60 वर्ष का कोई भी वरिष्ठ नागरिक निवेश कर सकता है। साथ ही इस योजना में निवेश के लिए अधिकतम उम्र की कोई सीमा नहीं है। योजना ग्राहक ज्यादा से ज्यादा 15 लाख रुपए तक का निवेश कर सकता है।
इतना ही नहीं, ग्राहक भारतीय जीवन बीमा निगम यानी कि एलआईसी के द्वारा रकम देकर हर महीने एक राशि की पेंशन प्राप्त कर सकता है। आपको बता दें लाख पर आपको हर महीने 10 हजार रुपए की पेंशन दी जाएगी।
आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 सी के तहत आपकी जमा राशि पर किसी प्रकार का कर नहीं लगाया जाएगा। यद्यपि जमा की गई राशि से मिलने वाले ब्याज पर पॉलिसी धारक को टैक्स भरना होगा।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.