Loading...

जनधन खातों से मिलेगा सरकारी स्कीमों का लाभ, जानें किस प्रकार बिना दस्तावेज आप भी खोल सकते हैं यह खाता..

0 16

यह तो आप सभी जानते हैं। कोरोना वायरस संक्रमण हमारी के चलते देशभर में काफी आर्थिक स्थिति बिगड़ी हुई है। ऐसे में सरकार द्वारा तभी ऐसी स्कीमें चलाई गई है। जिन से कमजोर तबके के लोगों को राहत पहुंचाई जा सके।

लाॅक डाउन का 4 चरण चल रहा है और इस अवधि के दौरान केंद्र सरकार में अप्रैल से लेकर जून महीने तक के लिए भी करोड़ महिलाओं के जनधन खातों में 500 रुपए की धनराशि हर महीने पहुंचाने का बीड़ा उठाया है। इसके साथ-साथ कई ऐसी स्कीमें है, जिनका लाभ सरकार डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से पहुंचा रही है। ऐसे में कई बार योजनाओं का लाभ उठाने के लिए पात्र लोग भी इससे वंचित रह जाते हैं, क्योंकि उनका तो है ही नहीं आते हैं और आप आना चाहते हैं तो कोई काम नहीं है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं, जिसके माध्यम से आप देश के खाता खुलवा सकते हैं।

आपको बता दें कि यह खाता हस्ताक्षर या अंगूठे के निशान से ही खुल सकता है। भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार, यदि किसी व्यक्ति के पास जरूरी और आधिकारिक दस्तावेज मौजूद नहीं है। तब भी वह छोटा खाता खुलवा सकता है। अपनी सेल्फ अटेस्टेड फोटो और अधिकारी के समक्ष फोन पर हस्ताक्षर करने का तरीका लगाने आप खाते के लिए आवेदन कर सकते हैं।
Loading...
वैसे तो ऐसे खातों को लेकर कुछ सीमा भी बनाई गई है। जैसे 1 साल में आप इसमें 1 लाख रुपए से ज्यादा रकम जमा नहीं कर सकते। इसके साथ ही महीने में 10 हजार रुपए से ज्यादा की रकम की निकासी भी नहीं कर सकते। इतना ही नहीं, किसी भी वक्त खाते में 50 हजार रुपए से अधिक एक साथ जमा भी नहीं कर सकते हैं।
इतना ही नहीं, यह खाता केवल 1 साल तक के लिए भी बैलेंस रहता है।
वैसे तो आमतौर पर यह खाते 12 महीने तक चालू रहते हैं। इतना ही नहीं, यदि आपने पैन कार्ड आधार कार्ड समेत किसी भी वैधानिक दस्तावेज के लिए आवेदन कर दिया है तो फिर उसकी स्लिप को जमा करने पर 1 साल का और वक्त प्राप्त हो जाता है। जिसके द्वारा आपका खाता है एक और साल के लिए बढ़ जाता है।
यदि आपके पास आधार कार्ड मौजूद नहीं है तो फिर किसी भी दस्तावेज की आवश्यकता नहीं है। यदि आपके पास आधार कार्ड पर पता एड्रेस बदला हो भी गया है तो सिर्फ डिक्लेरेशन के माध्यम से भी आपका यह खाता खोला जा सकता है। यदि आधार कार्ड उपलब्ध नहीं है तो फिर आप उसकी जगह अपना वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, नरेगा कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.