Loading...

रेलवे ने दी सूचना: नहीं हो पाएंगी पड़ोस से ट्रेन टिकट बुक, जल्द लग सकती है इन एजेंट्स पर रोक !

0 10
जैसा कि आप सभी जानते हैं रेलवे द्वारा कई ऐसे एजेंट ऑफिस खुल चुके हैं। जिन पर आप अपनी ट्रेन टिकट बुक करा सकते हैं। वैसे तो यह है सुविधा यात्रियों की सुविधा को सुचारू रूप से चलाने के लिए की गई थी, जिससे रेलवे तक यात्री को टिकट बुक कराने के लिए भागदौड़ ना करनी पड़े। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को बताया कि प्राइवेट एजेंट्स और वेंडर्स को पैसेंजर्स के लिए ट्रेन टिकट बुक नहीं करने देने का प्रस्ताव दिया गया है। इसके पीछे की भी एक खास वजह है। उन्होंने इसकी वजह बताइए कि जब घर बैठे मोबाइल फोन के द्वारा आप ट्रेन टिकट बुक कर सकते हैं तो प्राइवेट एजेंसीज की कोई खास आवश्यकता नहीं होगी।
शायद आप नहीं जानते होंगे कि ट्रेन टिकट को लेकर भी कालाबाजारी होती है। आपको बता दें कि लोकसभा में चर्चा के दौरान रेल मंत्रालय के एक ग्रांट पर एक मांग को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि पिछले 14 महीनों से 5,300 से अधिक लोगों ने ट्रेन टिकट बुक कराएं जो की कालाबाजारी के मामले में आती है। कुल 884 टिकट बुकिंग वेंडर्स को ब्लैक लिस्ट भी किया जा चुका है, जिनसे अब उनकी यह कालाबाजारी बंद कर दी जाएगी।
एक आम नागरिक को इस बात की खबर नहीं होती है कि यह टिकट गैर कानूनी रूप से भी बुक कर दी जाती है। गैरकानूनी सॉफ्टवेयर की मदद से की जाने वाली टिकट बुक इस दायरे में आती है। ट्रेन टिकट बुक करने के लिए कई तरह के गैर कानूनी सॉफ्टवेयर का प्रयोग किया जाता था। करीब 10 करोड़ रुपए के ट्रेन टिकट को कैंसिल कर दिया जाता है। इन सॉफ्टवेयर्स को बैन कर दिया गया है। इसके अंतर्गत मामले में 104 लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। लोकसभा में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि हम सभी लोगों से आग्रह करना चाहेंगे कि ‘गारंटीड टिकट की लालच में ऐसे एजेंट्स वेंडर्स के बहकावे में ना आएं।’
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.