Loading...

Debit Card मशीन में अटक जाए तो आप क्या करेंगे, जानें कार्ड वापस पाने का आसान तरीका !

0 2
इस प्रकार तेजी से भारत में डिजिटलाइजेशन अग्रसर हो रहा है उसके चलते आजकल लोग पैसे निकालने के लिए बैंक की जगह एटीएम का रास्ता ही अपनाते हैं। एटीएम से पैसा निकालने पर आपका कार्ड मशीन में ही अटक जाए तो आप क्या करेंगे जाहिर सी बात है। आप एटीएम के बाहर बैठे गार्ड से इसकी जानकारी लेंगे या कुछ देर परेशान होकर मशीन के आसपास ही रहेंगे, लेकिन क्या आप जानते हैं आपका कार्ड बिना परेशानी के आपको वापस मिल सकता है। इसके लिए बस आपको बैंक तक यह सूचना पहुंचाने होगी। आइए हम आपको बताते हैं आप अपना मशीन में अटका हुआ कार्ड कैसे वापस पा सकते हैं-
अपने डेबिट कार्ड को वापस पाने का पहला तरीका यह है कि इसमें आपको पहला चकिया करना है। एटीएम में कार्ड फसने पर इसकी सूचना तुरंत बैंक को देनी है। कस्टमर केयर को फोन करके एटीएम की लोकेशन फसने का कारण बताना है। दूसरे स्टेप में आपको कस्टमर केयर से बात करने पर वह आपको दो ऑप्शन देते हैं। कार्ड को कैंसिल कराने का या सरकार को वापस लेने का ऑप्शन यदि आपको लगता है कि आपके कार्ड का गलत इस्तेमाल हो सकता है तो आप इसे कैंसिल करा सकते हैं। तीसरे स्टेप में आप को बैंक 7 से 10 दिन में नया कार्ड आपके घर पर ही पोस्ट द्वारा भेज देती है। कम समय में कार्ड वापस लेने के लिए आप अपने ही नजदीकी बैंक की ब्रांच से संपर्क कर सकते हैं।
यदि आपको अपना पुराना कार्ड वापस पाना चाहते हैं तो आपको इसके लिए अपने बैंक को सूचना देनी होगी। यदि एटीएम आपके ही बैंक का है तो कार्ड वापस मिलना और भी ज्यादा आसान होगा, लेकिन किसी और बैंक के एटीएम में है तो वह आपके बैंक को वह कार्ड वापस कर देते हैं। फिर अपने बैंक से आप इसे पुनः प्राप्त कर सकते हैं।
 अगर एटीएम में कार्ड अटक जाता है तो इसकी तीन बड़ी वजह होती है। पहला कारण यह होता है कि एटीएम लिंक फेल होने पर ATM मे कार्ड फस जाता है। कार्ड फसने का दूसरा कारण यह होता है कि कार्ड डालने के बाद बिल अमाउंट या अकाउंट फीड करने में देरी होने पर भी कार्ड अटका रह जाता है। तीसरा कारण मशीन में पावर सप्लाई बंद होने के कारण भी कई बार कार्ड अटक जाता है।
Loading...
 आपको बता दें कि कार्ड सबसे पहले वेंडर को मिलता है ऐसा नहीं है कि आपका कार्ड असुरक्षित हाथों में चला जाए कार्ड पहले वेंडर को मिलता है जो एटीएम में पैसा अपलोड करता है वेंडर कार्ड को बैंक में जमा करा देता है। आपका कार्ड किसी भी परिस्थिति में से एक ही रहता है। यह सब आरबीआई की गाइडलाइंस के अंतर्गत गोपनीय तरीके से किया जाता है। यदि कार्ड दूसरे बैंक का है तो वह उसे संबंध बैंक को भी जमा कर देते हैं। आपकी तरफ से शिकायत मिलने पर बैंक से अपने लास्ट ट्रांजैक्शन की रसीद लेकर आपका कार्ड आपको वापस दे देते हैं। डेबिट कार्ड की तरह यदि क्रेडिट कार्ड भी एटीएम मशीन में अटक जाए तो आप उसे भी बैंक से ही वापस ले सकते हैं। नए क्रेडिट कार्ड आने पर उसका बदल दिया जाता है, लेकिन कार्ड का फीचर पहले की तरह ही रहता है।
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.