Loading...

क्या आप जानते हैं डेबिट या क्रेडिट कार्ड के पीछे छपे हुए CVV नंबर का मतलब, अगर नहीं तो जानिए

0 243

अगर आप भी उनमें से हैं जो कार्ड के माध्यम से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करते हैं तो आपको पता ही होगा कि कार्ड से पेमेंट करते समय आपसे कार्ड पर लिखा सीवीवी नंबर (CVV number) पूछा जाता है, जो आमतौर पर 3 डिजिट का होता है.

दरअसल इस नंबर के बिना पेमेंट नहीं होती है. हालांकि, कुछ बैंक इसे सीवीसी कोड भी कहते हैं. बता दें कि यह इतना अधिक महत्वपूर्ण है कि इसे पूरी तरह से गोपनीय रखने की सलाह दी जाती है.

दरअसल सीवीवी नंबर का पूरा नाम है कार्ड वैरिफिकेशन वैल्यु (Card Verification Value). मालूम हो कि इसे कार्ड वैरिफिकेशन कोड (Card Verification Code) भी कहते हैं.

CVC नंबर की ये है खासियत

Loading...

आपको बता दें कि यह कोड आपको अपने क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के पिछली तरफ मैग्नेटिक स्ट्रिप के पास देखने को मिलेगा. दरअसल इस कोड की सबसे बड़ी खासियत ये है कि ये किसी भी सिस्टम पर आसानी से सेव नहीं होता है.

जी हां, दरअसल आपने कई बार देखा होगा कि ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के समय आपके कार्ड की डिेटेल ऑटो सेव हो जाती है और अगली बार पेमेंट करते समय आपको कार्ड की पूरी डिलेट नहीं भरनी पड़ती है. हालांकि सिर्फ सीवीसी नंबर इंटर करना होता है. ऐसा इसलिए क्योंकि सीवीसी नंबर कभी सेव नहीं होता है.

CVC नंबर पीछे लिखे होने की क्या है वजह

टेक्नोलॉजी और डिजिटलाइजेशन के इस जमाने में आजकल कार्ड से पेमेंट करते समय ओटीपी के रूप में एक अतिरिक्त सुरक्षा लेयर उपलब्ध है. हालांकि इसके बावजूद सुरक्षा की दृष्टि से सीवीसी नंबर बेहद महत्वपूर्ण है.

इसके अलावा दूसरी बात ये है कि ये नंबर कार्ड के पीछे लिखा होता है, इसलिए ऑनलाइन पेमेंट करते समय इसे देख पाना आसान नहीं. वैसे एक्सपर्ट्स तो यह भी सलाह देते हैं कि आप अपने सीवीसी नंबर को यादकर उसे कार्ड से मिटा दें.

ये नंबर डेटा चोरी से आपको रखता है सुरक्षित

आपको बता दें कि सीवीसी नंबर डेटा चोरी के वक्त आपकी मदद करता है. जी हां, दरअसल ऐसा इसलिए है क्योंकि बैंकिंग रेग्युलेशन के मुताबिक कोई भी मशीन सीवीसी नंबर को स्टोर नहीं कर सकती है. दरअसल ऐसा हो सकता है कि किसी मर्चेंट की वेबसाइट पर आपका कार्ड की डिटेल और व्यक्तिगत सूचना सेव हो, लेकिन आपका सीवीसी नंबर वहां नहीं होगा.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.