Loading...

अब आधार कार्ड से लिंक हो सकता है फेसबुक अकाउंट, सुप्रीम कोर्ट करेगा इस मामले में सुनवाई

0 7

सोशल मीडिया प्रोफाइल को आधार नंबर से लिंक करने को लेकर मद्रास, बॉम्बे और मध्य प्रदेश हाईकोर्ट में चल रहे केसों को ट्रांसफर करने को लेकर फेसबुक की ओर से दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार हो गया है। जी हां, दरअसल आपको बता दें कि इस मामले में उच्चतम न्यायालय ने केंद्र, गूगल, ट्वीटर, यूट्यूब और अन्य संबंधित पक्षों को नोटिस जारी कर 13 सितंबर तक अपना पक्ष रखने को कहा है।

ई-मेल से भेजे जाएं नोटिस

मालूम हो कि मंगलवार को जस्टिस दीपक गुप्ता और अनिरुद्ध बोस की पीठ ने फेसबुक की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि जिन पक्षों को नोटिस तामील ना हो पाएं, उनके पास ई-मेल के जरिए नोटिस भेजे जाएं। दरअसल पीठ ने कहा है कि मद्रास हाईकोर्ट में चल रहे मामले की सुनवाई जारी रहेगी, लेकिन हाईकोर्ट कोई अंतिम फैसला नहीं सुनाएगी।

मालूम हो कि सोमवार को तमिलनाडु सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि फेक, अपमान करने वाला और पोर्न कंटेंट को रोकने के लिए सोशल मीडिया प्रोफाइल को आधार नंबर से लिंक करना जरूरी है। आपको बता दें कि साथ ही सरकार ने यह भी कहा था कि इससे एंटी नेशनल और आतंकी कंटेंट पर रोक लगाने में भी मदद मिलेगी।

Loading...

फेसबुक ने जताई थी इस पर आपत्ति

आपको बता दें कि राज्य सरकार के सुझाव पर फेसबुक ने आपत्ति जताई थी। दरअसल फेसबुक ने कहा था कि 12 डिजिट का आधार नंबर और बायोमेट्रिक यूनिक आईडेंटिटी को प्रदर्शित करने से यूजर्स की निजी गोपनीयता भंग हो जाएगी। मालूम हो कि फेसबुक का इस संबंध में यह कहना है कि एंड टू एंड एनिक्रिप्शन की वजह से व्हाट्सएप पर आधार नंबर की जानकारी थर्ड पार्टी के साथ शेयर नहीं की जा सकती है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.