Loading...

इन 4 कारणों से रवि शास्त्री को दोबारा बनाया गया टीम इंडिया का हेड कोच

0 2

रवि शास्त्री को भारतीय टीम का दोबारा से कोच नियुक्त किया गया है। अध्यक्षता वाली क्रिकेट सलाहकार समिति ने यह फैसला लिया है। जिसमें से अन्य दो मेंबर भारत के पूर्व क्रिकेट अंशुमन गायकवाड़ और भारत की पुरुष महिला क्रिकेटर शांता रंगास्वामी थी। आपको बता दें कि क्रिकेट सलाहकार समिति ने इस फैसले को लिया है कि रवि शास्त्री ही भारतीय टीम के अगले मुख्य कोच होंगे। 2021 टी20 विश्व कप तक उन्हें भारतीय टीम का कोच नियुक्त किया गया है। आपको बता दें कि रवि शास्त्री को लगातार दूसरी बार भारतीय टीम का कोच चुना गया है। जुलाई 2017 से भारतीय टीम के कोच बने हुए थे और उनके कार्यकाल में भारतीय टीम ने अच्छा प्रदर्शन भी किया है। तो आइये आज हम आपको ऐसे चार कारणों के बारे में बताएंगे कि क्यों हो रवि शास्त्री को दोबारा कोच बनाने का फैसला बिल्कुल सही है। आइए डालते हैं इन 4 कारणों पर एक नजर।

कोच के रूप में भारत ने जीते ज्यादातर मैच

भारतीय टीम को आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 में तो कामयाबी नहीं मिली। लेकिन अभी शास्त्री की कोचिंग के दौरान भारतीय टीम टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन टीम बन चुकी है। वहीं वनडे रैंकिंग में भी भारतीय टीम का स्थान दूसरे नंबर पर है। रवि शास्त्री की कोचिंग नहीं भारतीय टीम ने इतिहास में पहली बार ऑस्ट्रेलिया की टीम को उसी की धरती पर आई थी। रवि शास्त्री की कोचिंग के दौरान ही भारत ने साल 2018 का एशिया कप अपने नाम किया था। वही रवि शास्त्री की कोचिंग के दौरान भारत ने ऑस्ट्रेलिया साउथ अफ्रीका और न्यूजीलैंड वनडे सीरीज अपने नाम की थी।

खिलाड़ियों के साथ है अच्छी बॉन्डिंग

Loading...

रवि शास्त्री को कोच पद से हटाना सही नहीं है। क्योंकि 2 साल में ही रवि शास्त्री के साथ सभी खिलाड़ियों की बॉन्डिंग बहुत अच्छी रही है। भारतीय टीम के सभी खिलाड़ी रवि शास्त्री की तारीफ करते हैं और उन्हें एक अच्छा कोच भी बताते हैं। खिलाड़ियों के साथ उनकी अच्छी बॉन्डिंग को देखते हुए कहा जा सकता है कि रवि शास्त्री के कोच रहने से भारतीय टीम के ड्रेसिंग रूम का माहौल भी काफी अच्छा रहता है।

विराट कोहली के साथ भी है बेहतर बॉन्डिंग

भारतीय टीम एक कोच के रूप में रवि शास्त्री को सबसे बड़ा सपोर्ट विराट कोहली का मिला है वह वेस्टइंडीज दौरे पर जाने से पहले ही इस बात को कह चुके थे कि वह दोबारा रवि शास्त्री को कोच के रूप में देखना चाहते हैं। साल 2017 में सचिन तेंदुलकर सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण की सलाहकार समिति ने रवि शास्त्री को भारतीय टीम का कोच नियुक्त किया था।

टी20 विश्व कप से पहले जानते हैं टीम की खामियां

रवि शास्त्री है कैसे कोच हैं जो भारतीय टीम की खामियों से अच्छी तरीके से वाकिफ है। उन्होंने विश्वकप 2019 में भारतीय टीम की गलतियों को करीब से देखा है। ऐसे में जब साल 2020 के t20 विश्व कप में वह यह गलतियां नहीं दोहराएंगे। इतना ही नहीं अभी शास्त्री इस बात को भी बखूबी जानते ही हैं कि टीम के पास क्या मजबूती है और कौन सी कमजोरी है। इसलिए मैं अपने कार्यकाल भारतीय टीम की मजबूती और खामियों को ध्यान में रखते हुए ही आगे बढ़ाएंगे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.