Loading...

फंस गया है आपके PF का पैसा, तो चिंता न करें बल्कि अपनाएं ये 3 तरीके, आसानी से मिल जाएगा फंड

0 16

यह तो आप जानते ही होंगे कि नौकरीपेशा लोगों के लिए प्रोविडेंट फंड का पैसा कितना मायने रखता है. दरअसल ये पैसा उनके लिए बेहद अहम होता है. एक तो ये रिटायरमेंट फंड है, दूसरा अगर एमरजेंसी में इसे निकालने की जरूरत भी पड़े तो बहुत काम आता है. लेकिन, अगर किसी वजह से आपका पैसा फंस जाए तो क्या करेंगे.

जी हां, दरअसल कई बार ऐसा होता है कि आप नौकरी छोड़कर किसी दूसरी कंपनी में काम करने लगते हैं और पिछली कंपनी के पैसे पर ध्यान नहीं देते. दरअसल कई बार कंपनी के बंद होने की स्थिति में भी आप पीएफ के पैसे को भूल जाते हैं और जब निकालने या ट्रांसफर की कोशिश करते हैं तो पता चलता है कि यह आपका प्रोविडेंट फंड फंस गया है.

अब ऐसे में अगर आप भी कुछ ऐसी ही परिस्थितियों का शिकार हो जाएं और आपका भी फंड जाए तो इसे निकालने के लिए कुछ तरीके हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए.

EPFO के सामने रखें अपना पक्ष

Loading...

आपको बता दें कि EPFO ने सभी तरह के क्लेम सेटलमेंट के लिए 7 से 10 दिन की डेडलाइन रखी है. जी हां, दरअसल तय समय में ही क्लेम का सेटलमेंट होना चाहिए. बता दें कि अगर किसी वजह से इस डेडलाइन में क्लेम सेटलमेंट नहीं होता तो EPFO से इस शिकायत करके किसी बड़े अधिकारी से मिलना चाहिए.

ऑनलाइन भी कर सकते हैं शिकायत

मालूम हो कि कर्मचारी भविष्य निधि यानी प्रॉविडेंट फंड से जुड़ी कोई भी शिकायत EPFO के ऑनलाइन पोर्टल पर की जा सकती है. बता दें कि यह पोर्टल EPFO ने शिकायत के लिए ही बनावाया है. दरअसल शिकायत करने के लिए आपको निम्नलिखित स्टेप्स फॉलो करने होंगे..

सर्वप्रथम इस लिंक https://epfigms.gov.in पर जाएं.

बता दें कि पेज पर सबसे ऊपर बाएं तरफ Register Grievance पर क्लिक करें.

मालूम हो कि Register Grievance पर क्लिक करने पर अगला पेज खुलेगा. बता दें कि यहां PF Member पर क्लिक करें.

मालूम हो कि यहां UAN नंबर और Security Code डालकर Get Details के बटन पर क्लिक करें.

बता दें कि अब अगले पेज पर UAN से संबंधित जानकारी आ जाएगी. दरअसल अब Get OTP पर क्लिक कीजिए, OTP आने के बाद उसे दर्ज करें.

बता दें कि डिटेल्स वेरिफाई होने के बाद आप अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं.

RTI की मदद लेकर पता करें अपना स्टेट्स

बता दें कि अगर आपने कोई क्लेम डाला हुआ है और उसका कोई जवाब नहीं मिल रहा तो चिंता न करें क्योंकि ऐसी परिस्थिति में काम आता है सूचना का अधिकार यानी कि RTI.

दरअसल आप EPFO से अपने पीएस से जुड़ी जैसे क्लेम, रुकावट की वजह, क्लेम सेटलमेंट में देरी जैसी कोई भी जानकारी RTI से ले सकते हैं. मालूम हो कि ऑनलाइन RTI दाखिल करने लिए आपको इस लिंक https://rtionline.gov.in/ पर जाना होगा. दरअसल इसके बाद अपनी जानकारी मांग सकते हैं.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.