Loading...

देशभक्ति पर आधारित इन 5 बॉलीवुड फिल्मों से डर गया था पाकिस्तान, लगा दिया था बैन

0 25

15 अगस्त का दिन हम भारतीय लोगों के लिए बहुत ही ऐतिहासिक दिन होता है क्योंकि इस दिन हमारा भारत स्वतंत्र हुआ था। 15 अगस्त को हम स्वतंत्रता दिवस के रूप में सेलिब्रेट करते हैं। भारत को आजाद हुए कल 72 साल पूरे होने जा रहे हैं। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हम आपको देशभक्ति पर आधारित बॉलीवुड की 5 ऐसी फिल्मों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनको पाकिस्तान में बैन कर दिया गया।

मुल्क

3 अगस्त को ऋषि कपूर एवं ताप्सी पन्नू की फिल्म रिलीज हुई थी। इन दोनों के अलावा फिल्म में प्रतीक बब्बर, रजत कपूर, आशुतोष राणा, मनोज पाहवा और नीना गुप्ता जैसे सितारें मुख्य भूमिका में थे। यह फिल्म एक मुस्लिम परिवार की कहानी पर आधारित थी जिसको आतंकवादी होने के शक में गिरफ्तार किया जाता है। तापसी पन्नू एडवोकेट आरती मोहम्मद और ऋषि कपूर एडवोकेट मुराद अली मोहम्मद के किरदार में नजर आए।

Loading...

राजी

इस फिल्म में आलिया भट्ट और विकी कौशल मुख्य भूमिका में थे। फिल्म ने 100 करोड़ रुपए का कारोबार किया। पाकिस्तान में यह फिल्म बैन कर दी गई क्योंकि पाकिस्तान को लगता है कि फिल्म में विवादित कंटेंट है और इससे पाकिस्तान की छवि खराब होती है।

नाम शबाना

तापसी पन्नू की फिल्म नाम शबाना भी पाकिस्तान में बैन हुई थी क्योंकि पाकिस्तान को लगा था कि इससे देश की भावना आहत हो सकती है। तापसी पन्नू ने फिल्म में बॉक्सर और अंडरकवर एजेंट का रोल अदा किया था।

फैंटम

सैफ अली खान और कैटरीना कैफ स्टारर फिल्म फैंटम साल 2015 में रिलीज हुई थी जो पाकिस्तानी आतंकवादी और मुंबई हमले के आतंकी हाफिज सईद पर आधारित थी। ये फिल्म पाकिस्तान में बैन की गई।

बेबी

साल 2015 में अक्षय कुमार की फिल्म बेबी रिलीज हुई थी। फिल्म बेबी पाकिस्तान में नहीं दिखाई गई। फिल्म पर प्रतिबंध लगा दिया गया। पाकिस्तान सेंसर बोर्ड के मुताबिक इससे मुस्लिमों की छवि खराब होती है। इस फिल्म की कहानी एक भारतीय जासूस पर आधारित थी जो खूंखार आतंकी को पकड़ता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.