Loading...

FD से ज्यादा फायदेमंद है PPF में निवेश करना, मौजूदा समय में इसमें मिल रहा है सबसे ज्यादा लाभ

0 12

निवेश की बात की जाए तो अकसर लोग बैंकों में एफडी का ही रुख करते हैं लेकिन एफडी से भी ज्यादा आकर्षक ब्याज पीपीएफ पर मिलता है। जी हां, दरअसल फरवरी से लेकर अगस्‍त तक भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) रेपो रेट में 1.10 % की कटौती कर चुका है। अब बैंकों पर न सिर्फ लोन की ब्‍याज दरें कम करने का दबाव है बल्कि डिपॉजिट रेट भी घटने शुरू हो गए हैं।

मालूम हो कि बैंक और पोस्‍ट ऑफिस के पारंपरिक फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट, रैकरिंग डिपॉजिट या अन्‍य बचत योजनाओं कही तुलना में पब्लिक प्रोविडेंट फंड यानी कि PPF आज की तारीख में ज्‍यादा आकर्षक बन गया है।

दरअसल पीपीएफ नौकरीपेशा और मध्‍य वर्गीय लोगों के निवेश का पसंदीदा जरिया है और इसकी वजह भी है। बता दें कि इसमें निवेश कर आप इनकम टैक्‍स बचा सकते हैं क्योंकि इसके ब्‍याज पर टैक्‍स नहीं लगता और एक और खास बात यह भी है कि मैच्‍योरिटी पर मिलने वाला रिटर्न भी टैक्‍स फ्री होता है।

क्या हैं PPF और FD की ब्‍याज दरें

Loading...

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पीपीएफ की ब्‍याज दरें अभी काफी आकर्षक हैं, हालांकि जब बैंक रेपो रेट में कटौती को जमा दरों पर प्रभावी करेंगे तो यह और ज्‍यादा फायदे का सौदा बन जाएगा। मालूम हो कि जुलाई से सितंबर 2019 की तिमाही के लिए PPF की ब्‍याज दरें 7.9 % हैं।

वहीं दूसरी तरफ, SBI, PNB, बैंक ऑफ बड़ौदा, ICICI Bank और HDFC Bank फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर 7.5 % तक के ब्‍याज की पेशकश कर रहे हैं। दरअसल अभी इनमें और कटौती हो सकती है। आपको बता दें कि जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए सरकार ने लघु बचत योजनाओं की ब्‍याज दरों में 0.1 % की कटौती की थी।

छोटी बचत योजनाओं की ये हैं ब्‍याज दरें

मालूम हो कि सीनियर सिटिजन सेविंग्‍स स्‍कीम और सुकन्‍या समृद्धि योजना पर मिलने वाली मौजूदा ब्‍याज दरें कमश: 8.6 % और 8.4 % हैं। वहीं पीपीएफ और एनएससी पर 7.9 % का ब्‍याज मिल रहा है।

इसके अलावा 1 से तीन साल के पोस्‍ट ऑफिस फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर 6.9 % और 5 साल के एफडी पर 7.7 % का ब्‍याज मिल रहा है। रैकरिंग डिपॉजिट की बात करें तो इसकी ब्‍याज दरें फिलहाल 7.2 % हैं। वहीं 113 महीने वाले किसान विकास पत्र पर 7.6 % का ब्‍याज मिल रहा है।

बैंकों की FD की तुलना में ज्यादा आकर्षक हैं PPF

आपको बता दें कि अगर आप बैंकों के एफडी से PPF की तुलना करते हैं तो PPF ज्यादा फायदे का सौदा साबित होगा। मालूम हो कि यह न सिर्फ बैंकों के फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट की तुलना में ज्‍यादा ब्‍याज अर्जित करेगा बल्कि आयकर बचाने में भी मददगार साबित होगा। बता दें कि PPF में निवेश कर आप इनकम टैक्स की धारा 80सी के अंतर्गत 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर कटौती का लाभ उठा सकते हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.