Loading...

आपके Aadhaar कार्ड से 6 महीने में कहां-कहां हुई है आपकी वेरिफिकेशन, घर बैठे ऐसे कर सकते हैं पता

0 27

आधार कार्ड की बात की जाए तो आधार के दुरुपयोग को लेकर लगातार चिंता बनी हुई है. जी हां, दरअसल आवश्यक सेवाओं के लिए आपने भी अपना आधार कहीं न कहीं लगाया होगा. हालांकि, इसकी गोपनियता कितनी रखी गई, इससे शायद ही आप वाकिफ हों.

दरअसल ऐसा कम ही लोगों को पता होता है कि उनके आधार का इस्तेमाल कहां हुआ है या फिर किसने उनके आधार को ऑथेंटिकेशन के लिए इस्तेमाल किया है. लेकिन आपको बता दें कि एक ऐसा तरीका है जिससे यह जान सकते हैं कि आधार कार्ड का इस्तेमाल प्रमाण के तौर पर कब और कहां हुआ.

जी हां, बता दें कि आधार का प्रबंधन करने वाली संस्था UIDAI ने ऐसा प्रावधान तैयार किया है, जिससे आधार का इस्तेमाल कहां हुआ, यह पता लगाया जा सकता है. चलिए जानते हैं इसके बारे में..

इस तरह पता करें

Loading...

बता दें कि सर्वप्रथम आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट जिसका लिंक ये है https://resident.uidai.gov.in उसको खोलिए और आधार ऑथेंटिकेशन हिस्त्री पेज पर जाने के लिए लिंक पर क्लिक करें. बता दें कि अब आप अपना आधार नंबर और सिक्यॉरिटी कोड भरिए.

मालूम हो कि इसके बाद ‘Generate OTP’ पर क्लिक करना होगा. बता दें कि इसके बाद मोबाइल पर OTP प्राप्त होगा. दरअसल इसके लिए यह आवश्यक है कि UIDAI वेबसाइट पर आपका मोबाइल नंबर पहले से सत्यापित हो.

अन्य विकल्प में भरें जानकारी

मालूम हो कि ओटीपी डालने के बाद कुछ और विकल्प दिखाई देंगे और इनमें सूचना की अवधि और ट्रांजैक्शंस की संख्या बतानी होगी. बता दें कि अपना OTP भरने के बाद ‘Submit’ पर क्लिक करें.

दरअसल चुनी गई अवधि में ऑथेंटिकेशन अनुरोध की तारीख, समय और प्रकार पता चल जाएगा. हालांकि, पेज से यह पता नहीं चलेगा कि ये अनुरोध किसने किया है.

ऑनलाइन लॉक कर सकते हैं जानकारी

आपको बता दें कि अब अगर आपको आधार से जुड़ी कोई भी जानकारी ऐसी लगती है जिसपर आपको संदेह है, तो आप आधार की जानकारी ऑनलाइन लॉक कर सकते हैं और जब आप इस्तेमाल करना चाहे तो इसे अनलॉक भी किया जा सकता है.

पैन लिंक कराना है आवश्यक

जानकारी के लिए बता दें कि PAN लिंक कराने के लिए आपको इनकम टैक्स की वेबसाइट पर जाना होगा और इसके लिए PAN और आधार की जानकारी भरनी होगा और ऑथेंटिकेशन प्रक्रिया को पूर्ण करना होगा.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.