Loading...

डॉक्टर ने महिला से कहा गिरा दो बच्चा, लेकिन वो नही मानी, बोली उसे जन्म दूंगी, फिर पैदा हुआ

0 2,205

अमेरिका से एक महिका के प्रेग्नेंसी से संबंधित एक ऐसी खबर आई है जिसको सुनकर आपज दिल पसीज जाएगा और आप हैरत में भी पड़ जाएंगे। दरअसल, यहां रहने वाली 38 साल की एप्रिल हिंसन प्रेग्नेंसी के दौरान एक रूटीन चेकअप के लिए अस्पताल पहुंची थी।

Loading...

10 हफ्ते की प्रेग्नेंसी के दौरान डॉक्टर ने सोनोग्राफी की। डॉक्टर्स ने पेट में पल रही बच्ची में ऐसी चीज देखी कि तत्काल महिला को उसे गिरा देने की सलाह दी। हालांकि महिला ने ऐसा करने से इंकार कर दिया।

दरअसल डॉक्टर ने महिला से कहा कि अगर वो बच्चा नहीं गिराएगी, तो हो सकता है कि वो गर्भ में ही मर जाए या फिर ज्यादा दिन जिंदा ना रह सके।

Loading...

डॉक्टर्स के मुताबक बच्ची को एक रेयर बीमारी हो गई थी। दरअसल इस बीमारी की वजह से उसके दिमाग, रीढ़ की हड्डी और सिर का विकास रुक गया था और इसीलिए डॉक्टर्स ने अबॉर्शन की सलाह महिला को दी थी। हालांकि इस सब के बावजूद महिला उसे जन्म देने पर अड़ी रही।

दिमाग में छेद के साथ पैदा हुई लड़की

महिला की जिद के आगे डॉक्टर को झुकना पड़ा और कुछ महीनों बाद महिला ने अपनी बेटी को जन्म दिया। उसने उसका नाम सियाना रखा हालांकि सियाना की हालत देख डॉक्टर्स चिंता में थे। उन्हें जिस बात का डर था एक दिन वही हुआ।

दरअसल लड़की के दिमाग में इतना बड़ा छेद था कि उसका दिमाग साफ नजर आ रहा था। उस होल से उसका दिमाग बार-बार बाहर आ रहा था और उससे बार-बार उससे खून बह रहा था। वहां मौजूद स्टाफ जानता था कि बच्ची नहीं बचेगी, फिर भी वो एप्रिल का सपोर्ट करते रहे। फिर वो घड़ी भी आ गई और करीब 30 मिनट बाद तक जिंदा रहने के बाद बच्ची ने दम तोड़ दिया।

बेटी सियाना की जन्म के दौरान मौत के बाद एप्रिल बुरी तरह टूट गई। उन्होंने बताया कि कैसे उन्हें अपने बेटी का सिर बार-बार उसके दिमाग के अंदर करना पड़ रहा था। एप्रिल ने कहा, ”ये दृश्य देखना हर किसी के बस की बात नहीं, पर मैंने पहले ही खुद को इसके लिए तैयार कर लिया था”।

एप्रिल ने ये भी बताया कि वो अब हर साल अपनी बेटी के जन्म पर उसकी कब्र पर जाती है और वहां उसकी याद में गुब्बारे छोड़ती है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.