Loading...

भूमाफिया के बाद आजम खान होंगे हिस्ट्रीशीटर घोषित, हर वक्त रहेगी पुलिस की नजर

0 22

समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता आजम खान की परेशानियां खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। पहले उनको भूमाफिया घोषित किया गया। इसके बाद उनको हिस्ट्रीशीटर घोषित किया जा सकता है। इस पर प्रशासन विचार कर रहा है। साल 2019 में अप्रैल से लेकर अब तक उनके विरुद्ध 72 मामले दर्ज हुए हैं। रामपुर के जिला अधिकारी आंजनेय कुमार सिंह का कहना है कि उनके विरुद्ध ज्यादातर आपराधिक मामले दर्ज हुए हैं। उनमें जबरदस्ती जमीन हड़पने और चोरी के मामले शामिल है। इसलिए हमने उनकी हिस्ट्रीशीट खोलने का निर्णय लिया है।

Loading...

जिला अधिकारी ने यह भी बताया कि 72 मामलों में से 15 मामलों में चार्जशीट दाखिल हो चुकी है। जबकि अन्य मामलों की जांच की जा रही है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक आजम खान पर पुलिस की नजर रहेगी और उनकी गतिविधियों पर ध्यान रखा जाएगा।

गुरुवार के दिन आजम खान पर एक नया मामला दर्ज हुआ। उसके तहत आजम खान एवं जिला नगरपालिका के पूर्व ऑफिसर को नामजद किया गया। उन दोनों पर यह आरोप लगाया गया है कि दोनों ने शत्रु जमीन पर कब्जा किया। उस जमीन को जौहर यूनिवर्सिटी का हिस्सा बनाया। आजम खान उस जौहर यूनिवर्सिटी के चांसलर हैं।

Loading...

आले हसन जोकि आजम खान के सहयोगी एवं रिटायर्ड डिप्टी एसपी है, उन पर भी कई आरोप हैं और वे फरार हो गए हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। इन घटनाओं के बाद आजम खान के बेटे ने कहा कि रामपुर जिला प्रशासन एवं स्थानीय पुलिस हमारे करीबी सदस्यों को निशाना बना रही है। जो भी केस दर्ज किए गए हैं वह गलत आरोपों के आधार पर किए गए हैं। हम कोर्ट का सहारा लेंगे एवं f.i.r. रद्द करने की मांग करेंगे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.