Loading...

दो परिवार आसपास रहते थे, एक घर में पति-पत्नी हमेशा झगड़ते ही रहते थे, जबकि दूसरे घर में पति-पत्नी हमेशा प्रेम से रहते थे, झगड़ने वाली पत्नी ने अपने पति से कहा कि पड़ोस में जाकर देखो, उनके बीच कितना प्रेम

0 806

एक गांव में दो परिवार बिल्कुल पास-पास रहते थे। उनमें से एक परिवार में पति-पत्नी के बीच हमेशा झगड़ा होता रहता था। इनके घर से हमेशा झगड़े की आवाजें आती रहती थी। जबकि दूसरे घर में जो पति-पत्नी थे उनके बीच गहरा प्रेम था। यही कारण था कि उनके घर से बिल्कुल भी लड़ाई-झगड़े की आवाज नहीं आती।

Loading...

1 दिन लड़ाई-झगड़ा करने वाली पत्नी ने अपने पति से कहा कि हमारे घर में हमेशा अशांति बनी रहती है। लेकिन हमारे पड़ोस के घर में एकदम शांति रहती है। क्या हमारे पड़ोस के घर में रहने वाले पति-पत्नी के बीच लड़ाई-झगड़ा नहीं होता है।

तुम उनके घर जाकर देखो उन दोनों में इतना प्रेम क्यों है। पत्नी के कहने पर पति ने उन दोनों के घर में तांक-झांक करना शुरू कर दिया। वह चोरी छुपे उनके घर पर नजर रख रहा था। उस पति ने देखा कि कमरे में एक महिला पहुंचा लगा रही है। उसी वक्त महिला को कुछ काम याद आ गया और वह कमरे में पानी की बाल्टी छोड़ कर चली गई।

Loading...

पत्नी के जाने के थोड़ी देर बाद उसका पति कमरे में आया। लेकिन उसको बाल्टी दिखाई नहीं दी और उसने पानी की बाल्टी में ठोकर मार दी। पूरा पानी जमीन पर फैल गया, जिसके तुरंत बाद महिला उस कमरे में आई और अपने पति से माफी मांगने लगी।

पत्नी ने पति से कहा कि मुझे माफ कर दो। मैं ही यहां बाल्टी रख कर चली गई थी। उधर पति ने कहा कि इसमें तुम्हारी गलती नहीं है। मैं भी बिना देखे चल रहा था। इस वजह से बाल्टी से पानी फैल गया और मैंने तुम्हारा काम भी बढ़ा दिया। दोनों ही पति पत्नी अपनी-अपनी गलती की माफी मांग रही थी।

उधर लड़ाई करने वाला पति छुप कर देख रहा था। उसको समझ आ गया कि इन दोनों में इतना गहरा प्रेम क्यों है। जब वह अपने घर में आया तो उसकी पत्नी ने पूछा कि तुम्हें पता चला कि उन दोनों में इतना प्रेम क्यों है।

पति ने उत्तर दिया कि हां मुझे पता चल गया है। वह दोनों एक-दूसरे की गलतियां नहीं ढूंढते हैं। बल्कि अपनी गलती के लिए तुरंत माफी मांगते हैं । जबकि हम दोनों अपनी ही गलती पर दूसरों को जिम्मेदार ठहराते हैं। इसी वजह से हमारे बीच झगड़ा होता है।

कहानी की सीख

इस कहानी से हमें सीखने को मिलता है कि पति-पत्नी को कभी भी एक-दूसरे को गलती के लिए दोषी नहीं ठहराना चाहिए। हर पति-पत्नी को अपनी गलती कबूल करनी चाहिए। हर पति-पत्नी को एक-दूसरे की गलती को माफ करके अपने जीवन को आगे बढ़ाना चाहिए।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.