Loading...

अब रसोई में इस्तेमाल किए जा चुके तेल से दौड़ेंगे वाहन, बनेगा कमाई का साधन

0 0

वो दिन दूर नहीं जब आपके किचन में उपयोग होने वाले खाद्य तेल से भी आपके वाहन चलेंगे। जी हां, दरअसल अक्सर ऐसा होता है जब हम खाद्य तेल का एक बार उपयोग करने के बाद उसे या तो फेक दिया करते हैं या फिर उसे दोबारा उपयोग करते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए खतरनाक होता है।

Loading...

जी हां, लेकिन अब उसे दोबारा उपयोग करने की आवश्यकता नहीं। दरअसल उससे बायोडीजल बनेगा। बता दें कि इसे डीजल में मिलाया जाएगा। दरअसल इस प्रक्रिया में पेट्रोलियम तेल के आयात पर खर्च होने वाली भारी भरकम धन राशि की बचत होगी।

बता दें कि इससे देश की इकोनॉमी का विकास होगा। मालूम हो कि पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन शनिवार को एक मोबाइल एप्लिकेशन लांच करेंगे। बता दें कि इस एप से भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण यानी कि एफएसएसएआइ को बेकार हो चुके खाद्य तेल इकट्‌ठा करने में मदद मिलेगी।

Loading...

बेकार तेल भी बनेगा कमाई का साधन

मालूम हो कि शनिवार को 3 सरकारी तेल मार्केर्टिंग कंपनियों ने 100 शहरों में रसोई के बेकार तेल से बने बॉयोडीजल को खरीदने के लिए टेंडर जारी किए हैं। बता दें कि इन 3 ओएमसी में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन शामिल हैं।

मालूम हो कि ठेका हासिल करने वाली कंपनियां इन शहरों के होटलों, ढाबों, रेस्तराओं से बेकार खाद्य तेल खरीदकर बॉयोडीजल बनाएगी और उसे इन ओएमसी को बेचेगी। दरअसल इस तरह से इन होटलों और ढाबों को बेकार तेल से भी कमाई करने का मौका मिलेगा।

यानी इसका मतलब यह है कि आम के आम और गुठली के भी दाम। दरअसल मई में बायोफ्यूल की रिटेल नीति की अधिसूचना जारी होने के बाद मैकडॉनल्ड्स, केएफसी, बर्गर किंग और हल्दीराम जैसी कई कंपनियों ने बेकार तेल को बेचना शुरू भी कर दिया है।

इससे बचेगा देश का आयात खर्च

आपको बता दें कि पेट्रोलियम तेल का आयात घटाने के लिए सरकार ने साल 2030 तक डीजल में 5% बॉयोडीजल मिलाने का लक्ष्य रखा है। दरअसल आपको बता दें कि इसके लिए हर साल 5 अरब लीटर बॉयोडीजल की जरूरत होगी।

बता दें कि ओएमसी के अनुमान के मुताबिक रेस्तरां और होटल जैसे प्रतिष्ठानोंं के बेकार खाद्य तेल से हर साल 1.1 अरब लीटर बॉयोडीजल हासिल हो सकेगा। दरअसल यह कच्चे तेल के आयात पर खर्च होने वाली भारी भरकम रकम की बचत करने में मदद करेगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.