Loading...

हाथ-पैरों का सुन्न होना देता है किसी बड़ी बीमारी का संकेत, पहले से ही जरूर बरतें ये सावधानी

0 57

आजकल जिस तरह से जीवन शैली लगातार बदल रही है। उसमें खान-पान को लेकर चलने फिरने उठने बैठने तक पर असर पड़ रहा है। इसकी वजह से स्वास्थ्य संबंधी अनेक सारी परेशानियां पैदा हो सकती है। उन्हें परेशानियों में से एक है हाथ पैरों का लगातार सुन्न होना। इतना ही नहीं कभी-कभी अक्सर आप रात को सो रहे होते हैं। तब एकदम से आपके हाथ पैर सुन्न पड़ जाते हैं। जिसके कारण आप एक ही अवस्था में बैठ पाते हैं। हालांकि यह समस्या ज्यादातर तब होती है। जब आपके हाथ पैरों में दवाब पड़ता है। तंत्रिका में चोट लगी है या ठंडी चीजों और शराब का अधिक सेवन करने से भी यह समस्या ज्यादा होती है। इसके अलावा डायबिटीज थकान विटामिन बी या मैग्निशियम जैसे पोषक तत्वों की कमी के कारण भी यह समस्या होती है। तो आइए आज हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे कि आप कैसे इस समस्या से निजात पा सकते हैं।

घरेलू नुस्खों का करें उपयोग

हाथ पैरों के सुन्न होने पर सामान्य कारण रक्त प्रवाह का बाधित होना है। इसके अलावा रीढ़ की हड्डी से भी होकर गुजरने वाली किसी नस के दब जाने पर यह समस्या पैदा होता हैं।

सिकाई का करें प्रयोग

Loading...

आपको बता दें कि सिकाई से हाथ पैरों को सुन होने से बचाया जा सकता है। इसके अलावा जैतून नारियल या सरसों के तेल से मालिश करके भी आप आराम पा सकते हैं। इन दिनों की मालिश रक्त शरीर में रक्त प्रवाह को बनाती है। इससे पहले प्रभावित हिस्से पर गर्म पानी का सेक करें। ऐसा करने से मांसपेशियों की नसों को आराम मिलता है। एक साफ कपड़े को गर्म पानी में भिगोकर पांच 7 मिनट के लिए प्रभावित जगह पर लगाएं। ऐसा बार बार दोहराएं ऐसा करने से आपको जल्दी ही आराम मिलेगा।

मालिश करें

हाथ या पैर में सुन्नपन आने पर मालिश भी एक अच्छा कारगर उपाय है। यह रक्त संचार को बढ़ाता है। जिससे सुन्नता की कमी होती है। इसके अलावा यह मसल्स और नसों को प्रोत्साहित कर समग्र कामकाज में भी सुधार लाता है। अपने हाथों में गरम जैतून का तेल नारियल या सरसों का तेल लेकर इसे सुनने हिस्से पर लगा ले। और 5 मिनट तक गोल-गोल घुमाते रहे ऐसा करने से आपको तुरंत राहत मिलेगी।

हल्दी का प्रयोग

हल्दी में मौजूद कई सारे ऐसे तत्व होते हैं। जो शरीर में रक्त संचार में सुधार करने में मदद करते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण आप के प्रभावी हिस्से में दर्द की परेशानी को भी कम करता है। अगर आप भी समस्या से परेशान है। तो इसके लिए एक गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर उसे हल्की आंच पर पकाएं। इसके बाद उसमें थोड़ा सा शहद मिला लें और इसका सेवन करें।

दालचीनी

दालचीनी में महत्वपूर्ण विटामिन बी के साथ मैग्नीशियम पोटेशियम सहित अन्य कई प्रकार के रसायन और पोषक तत्व पाए जाते हैं। यह पोषक तत्व हाथ और पैर में रक्त संचार को बढ़ाकर हाथ और पैर की सुन्नता को दूर करने में भी मदद करते है। कई सारे डॉक्टर्स भी इस बात को कहते हैं कि रक्त संचार के लिए नियमित रूप से 2 से 4 ग्राम दालचीनी लेने से सन्नता की समस्या में आराम मिलता हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.