Loading...

शराब पीकर गाड़ी चलाना पड़ेगा महंगा, लगेगा 10 हजार का जुर्माना, आज राज्यसभा में पेश होगा मोटर व्हीकल बिल

0 10

अब सड़क पर चलना पहले से थोड़ा सेफ होने वाला है, जी हां, दरअसल हाल ही में केंद्रीय कैबिनेट ने मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन के प्रस्‍ताव को मंजूरी दे दी थी. बता दें कि इस बिल का मकसद रोड एक्सीडेंट से जुड़े कारणों को दूर करना और सड़क यातायात नियमों का पालन नहीं करने वालों पर सख्त कार्रवाई करना है.

दरअसल मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इसके लिए पुराने बिल में करीब 88 संशोधन किए गए हैं. यही कारण है इसे नया बिल ही माना जा रहा है.

बता दें कि भारत में लगातार बढ़ रही सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए आज राज्यसभा में मोटर व्हीकल संशोधन बिल 2019 पेश किया जाएगा. दरअसल केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी इसे राज्यसभा में पेश करेंगे. इसके बाद बिल पर चर्चा के बाद शाम को वोटिंग होगी.

मालूम हो कि लोकसभा से पहले ही ये बिल पास हो चुका है. दरअसल लोकसभा में सरकार के दिए जवाब के मुताबिक़ सड़क दुर्घटनाएं अनेक कारणों से होती हैं. इनमें गाड़ी चलाते समय मोबाइल फोन का उपयोग, शराब पीकर नशे में गाड़ी चलाना, रेड लाइट पार करना, ओवर टेकिंग और तेज गति से गाड़ी चलाना और सड़क की खराब हालत प्रमुख रूप से शामिल हैं.

Loading...

यहां आपको याद दिला दें कि यही बिल अप्रैल 2017 में भी लोकसभा में पास हुआ था. लेकिन राज्यसभा से इसे हरी झंडी नहीं मिल सकी थी. यही कारण है कि एक बार फिर केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को ये बिल पेश करना पड़ा है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बढ़ते सड़क हादसों को रोकने के लिए सरकार ने ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर भारी जुर्माने का प्रस्ताव रखा है. दरअसल इसमें से एक नियम ऐसा भी है, जिसे तोड़ने पर अब ड्राइवर को 5 गुना ज्यादा चालान भरना पड़ सकता है.

मालूम हो कि मोटर वाहन (संशोधन) बिल-2019 में दरअसल यह प्रस्ताव दिया गया है कि अगर ड्राइवर शराब के नशे में गाड़ी चलाते पकड़ा जाए तो उस पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगना चाहिए.

1 लाख रु तक है जुर्माने का प्रस्ताव

ज्ञात हो कि इस विधेयक में सड़क सुरक्षा के क्षेत्र में काफी सख्त प्रावधान रखे गए हैं. जी हां, जैसे किशोर नाबालिगों द्वारा ड्राइविंग, बिना लाइसेंस ड्राइविंग, खतरनाक ढंग से ड्राइविंग, शराब पीकर गाड़ी चलाना, ओवर स्पीडिंग और ओवरलोडिंग जैसे नियमों के उल्लंघन पर कड़े जुर्माने का प्रावधान किया गया है.

इसके अलावा ओला, उबर जैसे एग्रीगेटर्स द्वारा ड्राइविंग लाइसेंसों के नियमों का उल्लंघन करने पर 1 लाख रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है.

जानिए कितना है जुर्माना लगाने का प्रस्ताव

बता दें कि शराब पीकर गाड़ी चलाने पर नए कानून के तहत अब 10000 रुपये जुर्माना लगेगा जबकि खतरनाक तरीके से ड्राइविंग पर जुर्माना 1000 रुपये से बढ़ाकर 5000 रुपये कर दिया गया है.

इसके अलावा ओवरलोडिंग पर 20000 रुपये जुर्माना लगेगा. वहीं सीट बेल्ट न बांधने पर 1000 रुपये जुर्माना देना होगा.

मालूम हो कि इस विधेयक में ओवर स्पीडिंग पर 1000-2000 रुपये तक का जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है. वहीं बिना बीमा पॉलिसी के वाहन चलाने पर 2000 रुपये तक का जुर्माना रखा गया है.

इसके अलावा बिना हेलमेट के वाहन चलाने पर 1000 रुपये का जुर्माना और 3 माह के लिए लाइसेंस निलंबित किया जाने का प्रस्ताव शामिल है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.