Loading...

हिंदू धर्म में इस बड़ी वजह से लड़के और लड़की की एक ही गोत्र में नहीं होती है शादी

1 29

हिंदू शास्त्रों में गोत्र को सबसे ज्यादा महत्व दिया जाता है। हालांकि ऐसा कहा जाता है कि गोत्र के बारे में पूजा पाठ और विवाह के दौरान जानकारी होना बेहद जरूरी है। हिंदू रीति-रिवाजों में गोत्र जाने बिना शादी भी नहीं की जाती है। लड़का और लड़की का एक होता है तो उसकी शादी नहीं होती है। आज हम आपको बताएंगे। गोत्र से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण गुणों के बारें में।

हिंदू धर्म में लड़का और लड़की का एक ही गोत्र होता है तो उसकी शादी नहीं हो सकती। क्योंकि हिंदुओं के मुताबिक वह भाई-बहन बन जाते हैं।

एक ही गोत्र में शादी ना करने के पीछे कई सारी वजह बताई गई है। दरअसल ऐसा भी कहा जाता है कि अगर एक गोत्र में 2 लोग शादी कर लेते हैं। जब उनके बच्चे होते हैं तो उनके अंदर कुछ न कुछ विकृति आ जाती है। इसी वजह से एक गोत्र में कभी भी शादी नहीं करनी चाहिए।

Loading...

लड़का और लड़की की शादी अब हिंदू धर्म के मुताबिक होती है। तो 3 गोत्र छोड़कर उनकी शादी एक दूसरे से हो जाती है। लड़का लड़की का गोत्र माता पिता और दादी के गोत्र को छोड़कर दूसरे गोत्र में शादी होती है।

हालांकि यह भी कहा जाता है कि यदि रिश्तेदारों में शादी होती है तो आगे उनके बच्चों के अंदर जो जींस पाए जाते हैं उन्हें कई तरह की कमी होती है।

Loading...
1 Comment
  1. ปั้มไลค์ says

    Like!! Thank you for publishing this awesome article.

Leave A Reply

Your email address will not be published.