Loading...

कौन से किसानों को नहीं मिल पाएगा PM किसान सम्मान योजना का फायदा, सरकार ने सदन में दिया जवाब

0 18

पीएम किसान सम्मान योजना में फिलहाल वे किसान ही शामिल हैं जिनके पास जमीन का मालिकाना हक है. जी हां, दरअसल ये कहना है कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला का जिन्होंने शुक्रवार को राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में यह स्पष्ट किया. उन्होंने बताया कि जो किसान किराये पर खेती करते हैं, कृषि मजदूर हैं या किसी अन्य रूप में खेती करते हैं, वे इसी तरह की योजना ‘‘श्रमयोगी योजना’’ के तहत पेंशन सुविधा का लाभ उठा सकते हैं.

वहीं दूसरी तरफ किसानों की आय दोगुना करने से जुड़े एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘मैं इस बात से सहमत हूं कि इसी विकास दर के साथ किसानों की आय दो गुनी हो जायेगी, हम भी इस बात को नहीं मानते हैं.’

इसके अलावा जैविक कृषि को बढ़ावा देने से जुड़े एक सवाल के जवाब में रूपाला ने कहा कि सरकार ने जैविक खाद के उत्पादन के प्रोत्साहन के लिये भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के सहयोग से देश में 20 केन्द्र चल रहे हैं.

उन्होंने बताया कि, प्रत्येक केन्द्र में किसानों के साथ मिलकर 1 लाख क्लस्टर बनाने का लक्ष्य तय किया गया है. यही नहीं, इसके अलावा सायनिक खाद को दी जाने वाली सब्सिडी की तर्ज पर जैविक खाद के लिये भी निजी क्षेत्र द्वारा संचालित 61 परियोजनाओं को 720 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता दी गयी है.

Loading...

वहीं समाजवादी पार्टी के रामगोपाल यादव ने पूछा कि कृषि में शामिल मत्स्य पालन, डेयरी उत्पादन, वानिकी और खेती पर आधारित मौजूदा लगभग 4% कृषि विकास दर पर क्या साल 2022 तक किसानों की आय दो गुनी हो जायेगी?

दरअसल यादव ने कहा था कि आर्थिक सर्वेक्षण के मुताबिक कृषि में शामिल इन 4 मुख्य कार्यों पर आधारित कृषि विकास दर लगभग 4% है जबकि विशुद्ध खेती पर अधारित कृषि विकास दर 2% से भी कम है.

आपको बता दें कि इसके जवाब में रूपाला ने कहा कि किसानों की आय दोगुना करने के लिये सरकार ने कई प्रयास किए हैं. इनमें कृषि कार्य में पशु पालन, मधुमक्खी एवं मत्स्य पालन, बागवानी, वानिकीकरण आदि काम शामिल हैं।

बता दें कि इसमें किसान सम्मान योजना सहित अन्य कृषि कल्याण योजनाओं के सामूहिक लाभ से किसानों की आय दोगुना करने की कार्ययोजना लागू की है.

दरअसल उन्होंने कहा कि वह ऐसा नहीं मानते हैं कि कृषि से जुड़े अन्य पहलुओं को शामिल किये बिना साल 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जायेगी.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.