Loading...

1 लाख में शुरू हो जाएगा बिस्कुट-केक बनाने का प्लांट, होगी अच्छी कमाई, मोदी सरकार करेगी मदद

0 15

हम जब भी कोई बिजनेस शुरू करने के बारे में सोचते हैं तो जो सबसे पहला ख्याल हमें आता है वो है पैसा। जी हां, दरअसल हम सर्वप्रथम यही सोचते हैं की आखिर बिज़नस आरंभ करने के लिए आवश्यक पूंजी की व्यवस्था कहां से होगी।

अब अगर हम ऐेसे समय में आपको बोलें कि यदि आपके पास यदि केवल 1 लाख रुपए हों तो भी आप एक ऐसा बिजनेस शुरू कर सकते हैं जिसका डिमांड तेजी से बढ़ रही है तो जाहिर है कि आपकी परेशानी काफी हद तक दूर हो जाएगी।

जी हां, दरअसल आज हम आपको ऐसे ही एक बिजनेस के बारे में बता रहे हैं। इस बिजनेस की सबसे खास बात ये है कि इस बिज़नस को देखते हुए बैंक भी आपको आसानी से लोन दे देता है।

ये है वो कारोबार

Loading...

दरअसल जिस बिज़नस की हम यहां बात कर रहे हैं वो है बिस्कुट, केक, चिप्स और ब्रेड बनाने के लिए मैन्युफैक्चरिंग यूनिट। आज हम आपको ये यूनिट कैसे लगाएं इसके संबंध में आपको ज़रूरी बाते बताने वाले हैं।

ज्ञात हो की यह बिजनेस को शुरू करने के लिए सरकार आपकी मदद करती है। जी हां, दरअसल इसमें आपको मुद्रा स्कीम के तहत लोन भी आसानी से मिल जाएगा। ऐसा इसलिए भी क्योंकि बेकरी प्रोडक्ट चीज़ ही ऐसी है जिसकी डिमांड पूरे साल रहती है।

क्या चाहिए रॉ मैटेरियल

रॉ मैटेरियल की जहां तक बात है तो आपको बता दें कि इस तरह के बिज़नस के लिए आटा, मैदा, आलू, दूध, घी, शुगर, यीस्ट, नमक, फ्लेवर पाउडर और एडिबल कलर की आवश्यकता होगी।

कितना होगा खर्च

खर्चे की बात करें तो इस बिज़नेस में निम्नलिखित खर्चे आ सकते हैं:

वर्किंग कैपिटल: 1.86 लाख रुपए

फिक्स्‍ड कैपिटल: 3.5 लाख रुपए

टोटल खर्च: 5.36 लाख रुपए

सरकार कैसे करेगी आपकी मदद

बता दें कि इस बिज़नस को सेटअप करने के लिए स्वयं सरकार आपकी मदद करेगी। दरअसल इसमें आपको 90 हजार रुपए अपने पास से लगाना होगा। वहीं बैंक से टर्म लोन की बात करें तो ये 2.97 लाख रुपए का होगा। और साथ ही वर्किंग कैपिटल लोन 1.49 लाख रुपए का होगा।

कैसे होगा आपको प्रॉफिट

मान लीजिए कि आपने अगर मंथली 1.86 लाख रुपए वर्किंग कैपिटल के साथ मैन्युफैक्चरिगं शुरू की तो साल भर में कुल 20.38 लाख रुपए की आपकी सेल होने की संभावना होगी। वहीं इतना सारा प्रोडक्ट तैयार करने में प्रोडक्शन कास्ट 14.26 लाख रुपए सालाना आएगा। यानी की ग्रॉस प्रॉफिट 6.12 लाख रुपए सालाना आएगा।

अब इसमें टर्म लोन व वर्किंग कैपिटल लोन का सालाना ब्याज करीब 50 हजार रुपए आएगा। उधर इनकम टैक्स 13 हजार रुपए और अन्य खर्च 70 हजार रुपए आ जाएगा तो नेट प्रॉफिट 4.6 लाख रुपए सालाना बन जाएगा यानि की मंथली आप 35 हजार रुपए से ज्यादा की कमाई कर पाएंगे।

इन्वेस्टमेंट निकलेगा कितने वर्ष में

इन्वेस्टमेंट निकलने की जहां तक बात है तो इस तरीके से आप समझ लीजिए:

सालाना रिटर्न: 78 %

4.20 लाख X 100/ 5.36 लाख= 78%

इसका मतलब ये हुआ की 1.5 साल में पूरा इन्वेस्टमेंट निकल आएगा।

अप्लाई कैसे करें

इस तरह के बिज़नस के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत आप किसी भी बैंक में अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक फॉर्म भरना होगा, जिसमें ये डिटेल देनी होगी:

नाम, पता, बिजनेस एड्रेस, एजुकेशन, मौजूदा इनकम और कि‍तना लोन चाहिए।

बता दें कि इसमें किसी तरह की प्रोसेसिंग फीस या गारंटी फीस भी नहीं देनी होती। लोन का अमाउंट आप 5 साल में लोटा सकते हैं।

आपके पास ज़रूरी क्या होना चाहिए

इस तरीके के बिज़नस के लिए आपके पास एक जगह होनी चाहिए। अगर आपके पास जगह नहीं है तो चिंता न करें क्योंकि इसे रेंट पर भी लिया जा सकता है। इसके साथ ही इस व्यवसाय के लिए एक मैनेजर, सेल्स मैन, स्किल्ड वर्कर और सेमी स्किल्ड वर्कर होने की भी आवश्यकता है। बता दें कि इन सबकी सैलरी पर 50 से 60 हजार रुपए खर्च होगा, जो वर्किंग कैपिटल में ऐड है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.