Loading...

कई बीमारियों को दूर करने में बेहद फायदेमंद है स्वाद में कुरकुरी मिस्सी रोटी, डायबिटीज मरीजों के लिए है अमृत

0 43

वर्तमान समय में डायबिटीज के मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। इसका सबसे बड़ा कारण है यह गलत पान खानपान लोगों को अपनी डाइट पर ध्यान ना देना। आपको बता दें डायबिटीज के मरीजों को अपने खानपान पर सबसे ज्यादा ध्यान देना चाहिए। और उनको हर चीज खाने से ज्यादातर बचना ही चाहिए। गेहूं और चने के आटे की मिक्स चपाती उनकी सेहत के लिए काफी ज्यादा लाभदायक है। आपको बता दें यह चपाती ना से कई सारी बीमारियों से बचाती है। बल्कि डायबिटीज ऐसी बीमारी होने पर अगर आप गेहूं और चने के आटे को मिक्स करके उसकी रोटी खाते हैं। तो यह आपके ब्लड शुगर को भी नियंत्रित रखती है। आइए जानते हैं इस चपाती को खाने के और भी बेहतरीन फायदों के बारे में।

इस रोटी को बनाने की विधि

गेहूं और चने के आटे को मिलाकर यह रोटी बनाई जाती है। जिसे मिस्सी रोटी भी कहा जाता है आपको बता दें इस रोटी का सेवन सबसे ज्यादा राजस्थानी और पंजाबी लोग करते हैं। इसे बनाने के लिए चने के आटे यानी बेसन और गेहूं के आटे का अनुपात बराबर रखना चाहिए। इसके बाद इसको गूंथ कर उसकी रोटी बनानी चाहिए।

Loading...

डायबिटीज में लाभदायक

आपको बता दें कि चने के आटे के अंदर गिलसेमिक इंडेक्स 70 होता है। वही है तत्वों गेहूं के आटे के अंदर करीब 100 पाया जाता है इसलिए चने के आटे का सेवन करने से ब्लड शुगर की समस्या भी कम होती है। इसको डायबिटीज के मरीजों के लिए सबसे बेहतर आहार माना जाता है।

कोलेस्ट्रॉल को करें कम

चने के आटे के अंदर कई सारे ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो गेहूं के आटे के साथ मिलकर इसे खाने से काफी ज्यादा फायदा पहुंचाते हैं। इसका सेवन करने से शरीर के कोलेस्ट्रॉल और भी बेहतर रहता है। दोनों की मिक्स चपाती गुड़ कोलेस्ट्रोल का निर्माण करती है।

तनाव को करे कम

आपको बता दें कि गेहूं और चने का आटा उच्च फाइबर का स्त्रोत माना जाता है। जो कि हमारी सेहत के लिए काफी ज्यादा अच्छा होता है चने के आटे के अंदर भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता है। यही नहीं डॉक्टर्स भी इस बात को कहते हैं कि अगर हम सही मात्रा में आयरन का सेवन करते हैं। तो हम अपने तनाव को कम कर सकते हैं। इतना ही नहीं इसका नियमित सेवन करने से मोड भी अच्छा रहता है। इसके अंदर विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

प्रेगनेंसी में फायदेमंद

आपको बता दें कि गर्भवती महिलाओं के लिए मिस्सी रोटी का सेवन काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। गेहूं और चने की मिक्स आटे में फास्फोरस और कैल्शियम की मात्रा अच्छी होती है। जो कि शिशु और मां दोनों के लिए लाभकारी हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.