Loading...

50 हजार को शुरू हो जाएगा ये बिजनेस, होगी अच्छी कमाई, मोदी सरकार 90 फीसदी लोन देकर करेगी मदद

0 50

हम सब के पास कोई वाहन या फिर इन्वर्टर तो ज़रूर होता है. अब ऐसे में ये भी कहना सही है कि वाहनों और इन्‍वर्टर में लगी बैटरियों में कुछ महीनों के समय बीत जाने के पश्चात पानी डालने की जरूरत होती है. हालांकि ये पानी साधारण पानी नहीं होता है.

जी हां, दरअसल यह पानी अलग तरह का होता है. अब आजकल इसी से संबंधित एक बिज़नस हिट हो रहा है. जी हां, ये बिज़नस बैटरी वाटर का है यानि बैटरी में पड़ने वाले पानी का. मालूम हो कि ये आजकल ऑटोमोबाइल मार्केट के अलावा लगभग हर रेसिडेंशियल मार्केट में बिकता है.

यही कारण है कि शहरों में बैटरी वाटर मैन्‍युफैक्‍चरिंग प्‍लांट भी लग रहे हैं. अगर आप भी कोई ऐसा बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, तो हम आपके लिए इस बिज़नस को शुरू करने के संबंध में सब कुछ बताने जा रहे हैं.

Loading...

इतना आएगा खर्च

मालूम हो कि प्रधानमंत्री इम्‍प्‍लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम के तहत इस कारोबार को शुरू करने के लिए आपको आर्थिक सहायता मिलेगी. दरअसल अगर आपके पास सिर्फ 50 हजार रुपये हैं तो आप बैटरी वाटर प्‍लांट लगा सकते हैं, क्‍योंकि इस पूरे प्रोजेक्‍ट की कॉस्‍ट 4 लाख 70 हजार रुपये है. दरअसल खास बात यह है कि इसके लिए 90 % लोन केंद्र सरकार द्वारा दिया जाता है.

क्या है प्रोजेक्ट रिपोर्ट

जानकारी के लिए बता दें कि बैटरी वाटर प्लांट शुरू करने के लिए हॉ़ट एयर ब्‍लॉवर, प्‍लास्टिक ड्रम, वाटर लिफ्टिंग पंप, हार्डनेस टेस्टिंग किट, पीएच मीटर, सेमीऑटोमैटिक फिलिंग मशीन, 1 एचपी मोटर, क्‍वालिटी कंट्रोल इक्‍वीपमेंट आदि सामान लेना होगा.

आपको बता दें कि इस सारे सामान पर लगभग 2 लाख 25 हजार रुपये का खर्च आपको करना होगा जबकि आपको लगभग 2 लाख 45 हजार रुपये की वर्किंग कैपिटल की जरूरत पड़ेगी. मालूम हो कि इससे आपके प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट 4 लाख 70 हजार रुपए हो जाएगी.

इतनी होगी इनकम

मालूम हो कि इस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक, प्रोजेक्‍ट शुरू होने के बाद एक साल के दौरान आपको लगभग 9 लाख रुपये के रॉ-मैटेरियल की जरूरत पड़ेगी. दरअसल इस तरह आपकी कॉस्‍ट ऑफ प्रोडक्‍शन 14 लाख 70 हजार रुपये हो जाएगी.

बता दें कि एक साल में आप 250 किलो लीटर बैटरी वाटर का प्रोडक्‍शन करेगा और इसे बेचकर आपको 16 लाख रुपये मिलेंगे. यानि कि इस प्रकार आपको लगभग 1 लाख 29 हजार रुपये की इनकम होगी.

25 % तक मिलेगी सब्सिडी

बता दें कि अगर आप इस प्रोग्राम के तहत लोन लेते हैं तो आपको 25 % तक सब्सिडी भी मिलती है. शहरी क्षेत्रों में 15 % और ग्रामीण क्षेत्र में 25 फीसदी % दी जाती है, जबकि स्‍पेश्‍ल कैटेगिरी के लोगों को 25 व 35 % सब्सिडी मिलती है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.