Loading...

अगर आप अपने PF का पैसा करना चाहते हैं डबल तो अपनाएं ये तरीका, होगा फायदा

0 12

अगर आप भी उनमें से हैं जो प्राइवेट नौकरी करते हैं तो आपको पता होगा कि प्राइवेट नौकरी करने वालों के लिए प्रोविडेंट फंड काफी खास होता है. लेकिन, फिर भी सैलरी से कटने वाले इस अंश का बोझ ज्यादा अच्छा नहीं लगता. वहीं, दूसरी ओर लोगों को लगता है कि उनके खाते में पीएफ का पैसा ज्यादा होना चाहिए. लेकिन, दोनों चीजें संभव नहीं है.

हालांकि आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एक तरीका ऐसा है, जिससे पीएफ के पैसे को डबल किया जा सकता है. लेकिन, इसके लिए आपको अपने एम्प्लॉयर से बात करनी होगी. दरअसल आप अपने एम्प्लॉयर से कहकर अपना पीएफ कंट्रीब्यूशन को बढ़वा सकते हैं. बता दें कि इससे आपकी सैलरी में इन हैंड थोड़ा कम जरूर होगा. लेकिन, बचत और टैक्स के लिहाज से अच्छा विकल्प मिल सकेगा.

बढ़ जाएगा पीएफ में पैसा

आपको बता दें कि यदि आपके एम्प्लॉयर द्वारा आपके पीएफ कंट्रीब्यूशन को हर महीने समय रहते बढ़ाया जाए तो रिटायरमेंट के वक्त आपका फंड डबल हो सकता है. मालूम हो कि वर्तमान समय में एम्प्लॉइज प्रोविडेंट फंड यानी EPF पर 8.55% ब्‍याज मिलता है.

Loading...

यह कहता है EPFO का नियम

मालूम हो कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के पूर्व अस्टिटेंट कमिश्नर के मुताबिक, EPFO का नियम हर कर्मचारी को यह छूट देता है कि वो अपनी कंपनी से कहकर अपना पीएफ कंट्रीब्यूशन बढ़वा सकता है.

दरअसल इस नियम के मुताबिक, प्रोविडेंट फंड में बेसिक सैलरी एवं डीए का 12% कर्मचारी के हिस्से में जमा होता है. वहीं, इतना ही हिस्सा कंपनी की ओर से कर्मचारी के खाते में जमा कराया जाता है. इसके अलावा मालूम हो कि नियम के अनुसार, कोई भी कर्मचारी अपने मंथली कंट्रीब्‍यूशन को बेसिक सैलरी के 100% तक बढ़वा सकता है.

इस तरह डबल हो जाएगा PF का पैसा

जानकारी के लिए बता दें कि अगर कोई भी कर्मचारी अपने मासिक योग को दोगुना करा ले तो उसके पीएफ फंड की राशि खुद ब खुद दोगुनी हो जाएगी. जैसे उदाहरण के लिए मौजूदा व्यवस्था में बेसिक सैलरी पर 12% पीएफ का योगदान होता है. लेकिन, अगर कर्मचारी इसे बढ़वाकर 24% करा ले तो उसका पीएफ फंड भी दोगुना हो जाएगा.

मिलेगा चक्रवृद्धि ब्याज

आपको बता दें कि पीएफ फंड पर आपको डबल ब्याज का भी फायदा मिलेगा. दरअसल, पीएफ पर ब्याज की गणना चक्रवृद्धि ब्याज फार्मूला से होती है. बता दें कि इसे कंपाउंडिंग इंटरेस्ट भी कहा जाता है. ऐसी स्थिति में फंड दोगुना जमा होगा और हर साल ब्याज पर ब्याज का फायदा भी मिलेगा. इस तरह आपके रिटायरमेंट के लिए मोटा फंड तैयार होगा.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.