Loading...

अचानक से वर्ल्ड कप टीम में जगह बनाने वाले इस खिलाड़ी को किया गया नजरअंदाज, नहीं मिली जगह

0 1

भारतीय टीम का चयन होने से पहले यह माना जा रहा था कि मयंक अग्रवाल को वेस्टइंडीज दौरे पर भेजा जाएगा। लेकिन जब टीम चुनी गई तो उसमें मयंक अग्रवाल का नाम नहीं था। टेस्ट क्रिकेट में उनके शानदार प्रदर्शन को देखकर लग रहा था कि उन्हें सीमित ओवरों में जगह जरूर मिलेगी।

वर्ल्ड कप में विजय शंकर के चोटिल हो जाने के बाद मयंक अग्रवाल को टीम में जगह मिली थी। एमएसके प्रसाद ने कहा कि उनको बैकअप ओपनर के तौर पर इंग्लैंड भेजा गया था। लेकिन शिखर धवन पूरी तरह से फिट हो चुके हैं। जबकि लोकेश राहुल और रोहित शर्मा भी टीम में शामिल है। इससे स्पष्ट होता है कि उनको अभी मध्यक्रम में जगह नहीं मिलेगी। न्यूजीलैंड दौरे पर शुभमन गिल को भेजा गया था। लेकिन वेस्टइंडीज दौरे के लिए उनको टीम में जगह नहीं मिली।

भारतीय टीम का चयन होने के बाद एमएसके प्रसाद ने कहा कि ” मैं किसी सीरीज या बड़े टूर्नामेंट के बीच में प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं करता हूं, जिसको लेकर सवाल उठने लगे। शिखर धवन के चोटिल हो जाने के बाद लोकेश राहुल हमारे तीसरे ओपनर थे। लेकिन टॉप ऑर्डर में कोई भी बाएं हाथ का बल्लेबाज नहीं था। टीम प्रबंधन ने बाएं हाथ के बल्लेबाज की मांग की। ऋषभ पंत के अलावा कोई और विकल्प हमारे पास नहीं था। विजय शंकर के चोटिल हो जाने के बाद लोग यह सोचने लगे कि ओपनर को जगह कैसे मिली। ”

Loading...

एमएसके प्रसाद ने कहा कि ” शंकर के चोटिल हो जाने के बाद लोकेश राहुल भी बाउंड्री के पास बुरी तरह गिर गए थे। उनको मेडिकल टीम की देखरेख में रखा गया। इसके बाद एक ओपनर की मांग की गई जिसके बाद मयंक अग्रवाल को भेजा गया।” मयंक अग्रवाल ने ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध 2 टेस्ट मैच खेले जिनमें उन्होंने 195 रन बनाए।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.