Loading...

भारत-नेपाल के बीच बनाई जाएगी 18.5 किमी लंबी रेलवे लाइन, परियोजना को दिया गया अंतिम रूप

0 6

भारत ने भारत-नेपाल के बीच प्रस्तावित 18.5 किलोमीटर सीमा पार रेल लाइन के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट नेपाल को दे दी है। बता दें कि इस रेल लाइन से भारत के रूपैदिहा और नेपाल के कोहालपुर को जोड़ा जाएगा। रूपैदिहा और कोहालपुर के बीच प्रस्तावित सीमा पार रेल लाइन पर भारत से विस्तृत प्रोजेक्ट रिपोर्ट हासिल करने के बाद नेपाल सरकार इस परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया स्टार्ट करने की तैयारियों में जुटी हुई है। बता दें कि उत्तर प्रदेश के पूर्वी इलाके रूपैदिहा से लगभग साढे 18 किलोमीटर लंबी रेल लाइन का निर्माण कार्य शुरू होगा। इसके बीच जायसपुर, इंद्रपुर, गुरुवा गौन, हवलदलपुर, राजहेना पर स्टेशन बनाए जाएंगे। नेपाल का कोहालपुर अंतिम स्टेशन होगा।

भारतीय रेलवे विभाग के इंजीनियर किरण काकी ने बताया कि ईस्ट-वेस्ट हाईवे के परे रेलवे ट्रैक बिछाने के लिए सबसे पहले राष्ट्रीय पार्क की चौड़ी पट्टी की सफाई करनी होगी। इसलिए परियोजना का निर्माण कुछ इस तरह किया गया है कि अभयारण्य बचे रहे। डीपीआर के मुताबिक रेलवे लाइन ईस्ट वेस्ट हाईवे से लगभग 3 किलोमीटर दूर होगी। हालांकि कुछ मानव बस्तियां रास्ते में पड़ सकती हैं। लेकिन सरकार मानव बस्तियों के प्रबंधन का कार्य भी करेगी।

भारतीय सरकार का मकसद है कि आने वाले 2 दशकों में 4000 किलोमीटर रेल नेटवर्क विकसित हो जाए। रेलवे विभाग के अधिकारियों का कहना है कि आने वाले 5 सालों में 750 किलोमीटर लंबा नेटवर्क विकसित हो जाएगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.