Loading...

शुरू करें अगरबत्ती या धूप बनाने की यूनिट, सालाना होगी 3 लाख रुपए तक की कमाई, मोदी सरकार करेगी मदद

0 7

अगरबत्ती का भारत मे क्या स्थान है इससे शायद ही कोई ऐसा हो जो न परिचित हो. दरअसल अगरबत्तियां घरेलू वातावरण को पवित्र बनाने के लिए लगाई जाती है. हालांकि इससे आप बिज़नेस भी कर सकते हैं जो बेहद कम पैसों में शुरू हो जाता है.

दरअसल भारत में इसकी डिमांड इतनी ज्यादा है कि इसको आयात भी करना पड़ता है और तो और आयात भी थोड़ा बहुत नहीं बल्कि 4 हजार करोड़ रुपए का है. यह भी तब जबकि अगरबत्ती को घर बैठे बनाया जा सकता है.

दरअसल यही संभावना देखकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अगरबत्ती समेत कुटीर उद्योग को बढ़ावा देने का ऐलान किया है. चलिए जानते हैं कि किस तरह धूप अगरबत्ती का बिजनेस कम पैसों में शुरू कर सालाना 3 लाख रुपए तक कमाए जा सकते हैं.

निजी क्षेत्र को मिलेगी निर्यात संवर्धन की सुविधा

Loading...

आपको बता दें कि केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग तथा एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी अभी हाल ही में भारतीय उद्योग परिसंघ यानी कि सीआईआई के राष्ट्रीय सम्मेलन में शामिल हुए थे. वहां पर उन्होंने कहा था कि सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्योग यानी कि एमएसएमई क्षेत्र में कॉरपोरेट एवं निजी कंपनियों के प्रवेश पर प्रतिबंध हटा दिया गया है.

दरअसल उन्होंने बताया कि इससे 700 एमएसएमई क्लस्टर के निर्माण का रास्ता साफ होगा और आयात पर निर्भरता भी अपेक्षाकृत कम होगी और इसके साथ ही रोजगार भी बढ़ेगा.

इसके अलावा उन्होंने एक उदाहरण देते हुए कहा कि हम 4,000 करोड़ रुपये की अगरबत्तियों का आयात करते हैं जबकि उन्हें यहीं बनाया जा सकता है. दरअसल इसके लिए निर्यात संवर्धन करने की जरूरत है और यह एमएसएमई क्षेत्र को आगे बढ़ाने में मदद कर सकता है.

अगरबत्ती बनाने की मशीन की क्या है कीमत

मालूम हो कि भारत में अगरबत्ती बनाने की मशीन की कीमत 35000 रुपए से 175000 रुपए तक है. दरअसल इस मशीन से आप 1 मिनट में 150 से 200 अगरबत्ती तक बना सकते हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगरबत्ती बनाने में कई तरह की मशीनें काम में लाई जाती हैं. जी हां, दरअसल इनमें मिक्सचर मशीन, ड्रायर मशीन और मेन प्रोडक्शन मशीन शामिल है.

बता दें कि मिक्सचर मशीन कच्चे माल का पेस्ट बनाने के काम आता है और मेन प्रोडक्शन मशीन पेस्ट को बांस पर लपेटने का काम करता है. वहीं अगरबत्ती बनाने के मशीन सेमी और पूरी ऑटोमेटिक भी होती है.

इसलिए यह जरूरी है कि आप अगरबत्ती बनाने वाली आटोमेटिक मशीन से काम स्टार्ट करें क्यूंकि ये बहुत तेजी से अगरबत्ती बनाती है. बता दें कि आटोमेटिक मशीन की कीमत 90000 से 175000 रुपए तक है. इसके अलावा एक आटोमेटिक मशीन एक दिन में 100kg अगरबत्ती बना सकती है.

कच्चा माल सप्लायर से करिए संपर्क

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मशीन इंस्टॉलेशन के बाद आप कच्चे माल की सप्लाई के लिए मार्केट के अच्छे सप्लायरों से संपर्क करें. जी हां, दरअसल अच्छे सप्लायरों की लिस्ट निकालने के लिए आप किसी अगरबत्ती उद्योग में पहले से बिजनेस करने वाले लोगों से मदद ले सकते हैं.

एक बात का विशेष ध्यान रखें कि कच्चा माल हमेशा जरूरत से थोड़ा ज्यादा मंगाए. दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि इसका कुछ हिस्सा वेस्टेज में भी जाता है तो आपको माल की कमी न हो.

वहीं अगर अगरबत्ती बनाने के लिए सामग्री की बात करें तो इसमें गम पाउडर, चारकोल पाउडर, बांस, नर्गिस पाउडर, खुशबूदार तेल, पानी, सेंट, फूलों की पंखुड़ियां, चंदन की लड़की, जेलेटिन पेपर, शॉ डस्ट, पैकिंग मटीरियल आदि शामिल हैं.

पैकेजिंग और मार्केटिंग करें कुछ यूं

बिज़नेस के एक खास बात यह भी है कि आपका उत्पाद आपकी डिजाइनर पैकिंग पर बिकता है. जी हां, दरअसल पैकिंग के लिए किसी पैकेजिंग एक्सपर्ट से आपको सलाह लेनी चाहिए और अपनी पैकेजिंग को आकर्षक बनाना चाहिए.

दरअसल आप पैकेजिंग के द्वारा लोगों के धार्मिक मनोस्थिति को छूने की कोशिश करें. वहीं अगरबत्तियों की मार्केटिंग करने के लिए अखबारों, टीवी में एड दे सकते हैं. इसके अलावा अगर आपका बजट इजाजत देता हो तो कंपनी की ऑनलाइन वेबसाइट बनाएं और अपने विभिन्न उत्पादों की मार्केटिंग करें.

200 अगरबत्ती बन सकती हैं 1 मिनट में

कितने वक़्त में कितनी अगरबत्ती का निर्माण हो जाएगा ये दरअसल आपके द्वारा इस्तेमाल किए गए तरीके पर निर्भर करता है। जी हां, दरअसल अगर आप ऑटोमेटिक मशीन का इस्तेमाल करते हैं तो आप 1 मिनट में 150 से 200 अगरबत्ती बना सकते है.

वहीं अगर अपने हाथों से इसका निर्माण करते हैं या किसी से कराते हैं तो इसमें लगने वाला समय आपके या कर्मचारी के कार्य करने की क्षमता पर निर्भर करेगा.

कितना आएगा खर्च

मालूम हो कि इस बिजनेस को आप 13,000 रूपये की लागत के साथ घरेलु तौर पर भी शुरू कर सकते है हालांकि इसके लिए आपको हाथों से ही इनका निर्माण करना होगा। लेकिन अगर आप अगरबत्ती के बिजनेस को मशीन बैठाकर शुरू करते हैं तो इसको प्रारंभ करने में लगभग 5 लाख रूपये की लागत आ सकती है.

आपको बता दें कि अगरबत्ती को बनाने में लगने वाली सामग्रियां, उसकी मात्रा और उसके बाजार मूल्य का विवरण कुछ इस प्रकार है:

चारकोल डस्ट 1 किलो ग्राम 13 रुपये

जिगात पाउडर 1 किलो ग्राम 60 रुपये

सफ़ेद चिप्स पाउडर 1 किलो ग्राम 22 रुपये

चन्दन पाउडर 1 किलो ग्राम 35 रुपये

बांस स्टिक 1 किलो ग्राम 116 रुपये

परफ्यूम 1 पीस 400 रुपये

डीइपी 1 लीटर 135 रुपये

पेपर बॉक्स 1 दर्जन 75 रुपये

रैपिंग पेपर 1 पैकेट 35 रूपये

कुप्पम डस्ट 1 किलो ग्राम 85 रुपये

नोट: यहां आपको बता दें कि इन सामग्री की मात्रा आप अपने हिसाब से घटा बढ़ा भी सकते हैं यानी जैसी आपकी जरूरत है उस हिसाब से।

इतना होगा प्रॉफिट

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप 30 लाख का सालाना बिज़नेस करते हैं तो 10% फायदे के साथ आप 3 लाख रुपए कमा सकते हैं. इसका मतलब यह हुआ कि आप आसानी से हर महीने 25 हजार रुपए की कमाई कर सकते हैं. यानी ये फायदे का सौदा है हर लिहाज से.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.