Loading...

धोनी को लेकर गंभीर ने चयनकर्ताओं को दी सलाह, कहा- जज्बाती होने की जरूरत नहीं, प्रैक्टिकल होकर लें फैसला

0 4

विश्व कप 2019 का सेमीफाइनल मैच गंवाने के बाद महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास की खबरों ने जोर पकड़ लिया. हालांकि अभी तक इस मामले में धोनी की ओर से कोई बयान नहीं आया है. बीसीसीआई भी अभी तक धोनी को लेकर कोई निर्णय नहीं कर पाई है. इसी वजह से वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम चयन की प्रक्रिया को दो दिन आगे बढ़ा दिया गया.

चयनकर्ता नंबर 4 के लिए किसे चुने, यह भी एक बड़ी चुनौती है. इसी बीच भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने चयनकर्ताओं को सलाह दी है. उन्होंने कहा है कि धोनी को लेकर जज्बाती होकर नहीं सोचना चाहिए, बल्कि प्रैक्टिकल होकर निर्णय करना चाहिए. गंभीर के मुताबिक धोनी का सुनहरा दौर खत्म हो चुका है और चयनकर्ताओं को उनके भविष्य के बारे में व्यवहारिक फैसला लेने की जरूरत है.

गंभीर ने कहा कि भविष्य की ओर देखना जरूरी है. जब धोनी कप्तान थे तो उन्होंने भी युवा खिलाड़ियों के ऊपर भरोसा किया था. मुझे याद है 2012 में धोनी ऑस्ट्रेलिया में थे तो कहते थे कि मैं, सचिन और सहवाग सीबी सीरीज में नहीं खेल सकते, क्योंकि वहां के मैदान बड़े थे. उन्होंने विश्वकप के लिए युवा खिलाड़ियों की मांग की थी. इसलिए जज्बाती होकर फैसला लेने की जगह व्यावहारिक निर्णय लेना जरूरी है.

गंभीर ने कहा- यह समय युवा खिलाड़ियों को तैयार करने का है. धोनी की जगह टीम में ऋषभ पंत, संजू सैमसन, ईशान किशन जैसे विकेटकीपरों को मौका देना चाहिए. उन्हें एक-डेढ़ साल तक खेलने का मौका मिलना चाहिए. अगर वे अच्छा प्रदर्शन नहीं करें तो दूसरे खिलाड़ियों को जगह देनी चाहिए. भारत का वेस्टइंडीज दौरा 3 अगस्त से शुरू होने वाला है, जिसके लिए भारतीय टीम की घोषणा 21 जुलाई को की जाएगी.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.