Loading...

जिस ओवरथ्रो की वजह से इंग्लैंड की टीम बन गई विश्व विजेता, अब बदल जाएगा वो नियम

0 2

विश्व कप का फाइनल मुकाबला इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था. लेकिन इस मुकाबले को लेकर दुनिया भर में विवाद हुआ, जिसकी वजह से आईसीसी की आलोचना भी हो रही है. सुपर ओवर टाई होने के बाद मुकाबले की विजेता टीम का फैसला बाउंड्री के आधार पर किया गया और इंग्लैंड की टीम विजेता बन गई. इंग्लैंड को इस तरह से विजेता बनाने पर आईसीसी पर सवाल उठाए जा रहे हैं. इतना ही नहीं इंग्लैंड की पारी के आखिरी ओवर में ओवरथ्रो पर उसे अतिरिक्त रन दिए जाने पर भी सवाल उठ रहे हैं. तो ऐसे में अब इस नियम को बदलने की योजना है.

thetimes.co.uk की खबर के मुताबिक, एमसीसी विवादित ओवरथ्रो नियम की समीक्षा करने की योजना बना रही है. बता दें कि रविवार को लॉर्ड्स में खेले गए फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड की टीम को अंतिम 3 गेंदों में जीत के लिए 9 रन की जरूरत थी. ऐसे में बेन स्टोक्स ने बोल्ट की गेंद पर शॉट खेला और दौड़कर सिंगल ले लिया. तभी मार्टिन गुप्टिल ने डायरेक्ट हिट करने के लिए गेंद फेंकी और स्टोक्स दूसरा रन लेने के लिए दौड़ पड़े.

हालांकि खुद को बचाने के लिए स्टोक्स ने डाइव लगाई. लेकिन मार्टिन गुप्टिल द्वारा फेंकी गई गेंद स्टोक्स के बल्ले से लगकर बाउंड्री पर चली गई. इस वजह से इंग्लैंड की टीम को 2 रन और ओवरथ्रो के 4 रन मिलाकर 6 रन मिल गए, जिस वजह से यह मैच टाई हो गया और अंत में सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाने वाली टीम जीत गई.

Loading...

ऐसे गया सबका ध्यान

उस समय सभी ने अंपायर के निर्णय को स्वीकार किया और इंग्लैंड के खाते में 6 रन जुड़ गए. लेकिन जब पूर्व अंपायर साइमन टॉफेल ने बताया कि इंग्लैंड को 6 नहीं, बल्कि 5 रन मिलने थे तो यह मुद्दा और भी ज्यादा बढ़ गया. उन्होंने आईसीसी के नियम 19.8 की चर्चा करते हुए बताया कि इंग्लैंड को 5 रन मिलने थे.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.