Loading...

मोदी सरकार ने इस स्कीम के लिए दिए 20000 करोड रुपए, 2.5 लाख गांव तक पहुंचेगा सस्ता इंटरनेट

0 9

देश के हर कोने में सस्ता इंटरनेट पहुंचे इसके लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने भारतनेट योजना के तहत अभी तक कुल 20,431 करोड़ रुपये आवंटित किए है. दरअसल इस बात की जानकारी स्वयं टेलीकॉम मिनिस्टर रवि शंकर प्रसाद ने दी.

उन्होंने राज्यसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में कहा है कि भारतनेट प्रॉजेक्ट के तहत भारत ब्रॉडबैंड नेटवर्क लिमिटेड को यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड से अब तक कुल 20,431 करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं.

आपको बता दें कि प्रथम चरण में 10,286 करोड़ रुपये और द्वितीय चरण में 10,145 करोड़ रुपये दिए गए हैं. यहां आपको बता दें कि भारतनेट प्रॉजेक्ट के जरिए सरकार का लक्ष्य देश के 2.5 लाख गांवों को हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड नेटवर्क से जोड़ना है. बता दें कि गुरुवार को संसद में यह जानकारी दी गई.

जानिए क्या है भारतनेट योजना

Loading...

आपको बता दें कि भारतनेट प्रॉजेक्ट के तहत सैटलाइट मीडिया के जरिए ग्राम पंचायतों को जोड़ने की योजना है. बता दें कि रविशंकर प्रसाद ने कहा कि औसतन अभी एक वाई-फाई यूजर द्वारा करीब 52 एमबी डेटा प्रति महीने इस्तेमाल किया जाता है. मालूम हो कि 4 जुलाई, 2018 तक देश में करीब 345,779 किलोमीटर ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाई जा चुकी है.

यही नहीं, इसके साथ ही 1,31,392 ग्राम पंचायतों को भी कनेक्ट किया जा चुका है, जिनमें से 1,20,562 गांवों में इंटरनेट सेवा मिलने को तैयार है.

मालूम हो कि भारतनेट के दोनों चरणों की कुल लागत 45,000 करोड़ रुपये थी. दरअसल भारतनेट प्रॉजेक्ट के तहत, देश की 2.5 लाख ग्राम पंचायत में वाई-फाई या किसी दूसरी उचित ब्रॉडबैंड टेक्नॉलजी के जरिए ब्रॉडबैंड या इंटरनेट सेवाएं मुहैया कराने के लिए डिवाइसेज को कनेक्टिविटी दी जाएगी.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.